बिहार में नीतीश कुमार की सरकार मुश्किलों में आ सकती है। दरअसल महागठबंधन के कुछ हारे हुए नेताओं ने एनडीए के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में जाने का फैसला लिया है।

छठ पर्व खत्म होते ही मामूली अंतर से हारने वाले महागठबंधन के लगभग दो दर्जन उम्मीदवार हाईकोर्ट का रुख करेंगे।

महागठबंधन के मुख्यमंत्री उम्मीदवार तेजस्वी यादव के निर्देश पर ही इन हारे हुए उम्मीदवारों ने नीतीश सरकार के खिलाफ हो यह प्लान तैयार किया है। जिसकी कागजी कार्रवाई पूरी हो चुकी है। तेजस्वी यादव ने कहा है कि वह इन सभी नेताओं की हर संभव मदद करेंगे।

अब खबर सामने आ रही है कि तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार कि सरकार को एक बड़ी चेतावनी दे दी है।

तेजस्वी यादव ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर कहा है कि “भाजपा नीत नीतीश सरकार ने वादानुसार अगर एक महीने के अंदर 19 लाख नौकरी नहीं दी तो खेत-खलिहानों से लेकर सड़कों पर विशाल जन आन्दोलन होगा।

1 करोड़ 56 लाख मतदाताओं ने कमाई,दवाई, पढ़ाई, सिंचाई जैसे हमारे मुद्दों पर भरोसा किया है। हम उनके विश्वास को टूटने नहीं देंगे। कड़ा संघर्ष जारी रहेगा”

इससे पहले तेजस्वी यादव ने मीडिया से बातचीत के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भीष्म पितामह करार दिया था। तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि 15 साल में 60 बड़े घोटाले हुए हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री की फितरत रही है भ्रष्टाचारियों का बचाव करना। अब तेजस्वी यादव ने ऐलान कर दिया है कि अगर नीतीश कुमार ने राज्य के युवाओं को धोखा दिया तो उनकी पार्टी सड़क पर उत्तर कर सरकार का विरोध करेगी।

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने बिहार चुनाव प्रचार के दौरान युवाओं से यह वादा किया था कि अगर राज्य में उनकी सरकार बनती है तो 10 लाख सरकारी नौकरियां दी जाएंगी।

जिसके बाद नीतीश कुमार ने भी यह ऐलान किया था कि उनकी सरकार बनने पर युवाओं को 19 लाख रोजगार दिए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × three =