आज का दिन बिहार में पूरी तरह से राजनीतिक गहमागहमी भरा रहा। बिहार की सबसे बड़ी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने आज अपने स्थापना की 25वीं वर्षगांठ को सिल्वर जुबली के तौर पर मनाया।

इस दौरान पार्टी कार्यालय में भव्य आयोजन हुआ। कार्यक्रम का उद्घाटन राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने वर्चुअल तरीके से किया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के तौर पर राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव उपस्थित थे।

इस दौरान तेजस्वी यादव खूब गरजे। तेजस्वी ने जहां राजद के इतिहास और वर्तमान की चर्चा की तो वहीं बिहार की नीतीश सरकार पर भी जमकर हल्ला बोला।

तेजस्वी यादव ने इस मौके पर कहा कि लालू यादव एक व्यक्ति नहीं बल्कि विचार हैं। वो जब भी जहां भी रहें, उन्होंने बिहार के विकास की चिंता की। हमारे विरोधी विकास का चोला पहन कर जंगलराज जंगलराज चिल्लाते हैं।

आज बिहार की स्थिति यह है कि बिहार का युवा परेशान है। यहां कोई विकास का काम नहीं हुआ है। बिहार देश का एक ऐसा राज्य है जहां बिना घूस दिए कोई काम नहीं होता।

वहीं तेजस्वी ने कहा कि लालू प्रसाद यादव सामाजिक न्याय का दूसरा नाम है। जब तक सामाजिक न्याय नहीं होगा तब तक नफरत और भेदभाव खत्म नहीं होगा। जब तक सामाजिक न्याय नहीं होगा, तब तक विकास नहीं होगा।

लालू प्रसाद यादव की चर्चा करते हुए तेजस्वी ने कहा कि लालू जी 2014 में कहा करते थे कि लोगों को तय करना है कि देश रहेगा या देश टूटेगा लेकिन उस वक्त सभी ने लालूजी की बातों का मजाक उड़ाया।

आज देश कहां खड़ा हो गया है, आपके सामने है। सरकार देश को बेचने में लगी है। पेट्रोल से लेकर रसोईं गैस तक के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है। मोदीजी ने कहा कि अच्छे दिन आने वाले हैं. अब क्या हुआ? आ गए अच्छे दिन !

तेजस्वी ने पीएम मोदी पर प्रहार करते हुए कहा कि आपको याद होगा जब कहा गया था कि हम देश नहीं मिटने देंगे।

ये नारे आपको याद होंगे… इन लोगों ने क्या किया, समाज को तोड़ने का काम किया.. भाई को भाई से लड़ाने का काम किया. इन लोगों ने नोटबंदी किया, जीएसटी लागू किया।

वहीं लालू प्रसाद के कार्यकाल की याद दिलाते हुए तेजस्वी ने कहा कि आज के जो सीएम हैं, वह अपने घर की दीवार ही उंची कराते रहते हैं जबकि लालू जी के समय सीएम हाउस का गेट सबके लिए सदैव खुला रहता था।

आज बिहार में जो सरकार है, वह चोर दरवाजे से बनी हुई सरकार है। बिहार की जनता ने हमें जनादेश दिया था लेकिन चुनाव आयोग से मिलीभगत का नतीजा है कि आज बिहार में नीतीश कुमार की सरकार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 17 =