बिहार में नीतीश सरकार का बजट सत्र चल रहा है। आज बजट सत्र के छठे दिन बिहार के विपक्षी नेता तेजस्वी यादव साइकिल से विधानसभा पहुंचे थे।

इस दौरान उन्होंने महंगाई के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की बिहार सरकार पर जमकर निशाना साधा है।

उन्होंने कहा है कि देश में पेट्रोल डीजल और गैस सिलेंडर जिस तरह से बढ़ाया जा रहा है। इस महंगाई की मार जनता झेल रही है।

उन्होंने कहा है कि सब जानते हैं कि यही भाजपा के लोग पहले महंगाई का मुद्दा उठाकर गाना गाया करते थे कि महंगाई डायन खाए जात है। आज इनके कार्यकाल में महंगाई भौजाई बन चुकी है।

आज महंगाई को इस स्तर पर ला दिया गया है कि आम लोगों के लिए यह परेशानी बन चुकी है। भाजपा की सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाने का मकसद यह भी था कि देश में चल रहे किसान आंदोलन मैं प्रदर्शनकारियों को तंग किया जाए।

भाजपा के कार्यकाल में भारत बेरोजगारी का केंद्र बनता जा रहा है। वहीँ देश में जिस तरह से महंगाई चरम सीमा पर पहुंच चुकी है। आम लोगों का घर चलाना जान का जोखिम बन रहा है।

तेजस्वी यादव का कहना है कि जब भी देश में चुनाव होता है तो भारतीय जनता पार्टी के लोग प्रचार करते हैं कि हम महंगाई को कम करेंगे। इसके विपरीत समय-समय पर भाजपा द्वारा महंगाई को बढ़ाया जा रहा है।

गौर करने वाली बात है कि देश में पेट्रोल और डीजल के दाम ऐसे समय में बढ़ाए जा रहे हैं। जब इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल के दाम गिर रहे हैं।

इसके साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को घेरते हुए तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार में भी बढ़ा दिए गए हैं। इस पर वह किसी भी तरह की जवाबदेही भी नहीं देते हैं।

इससे पहले बजट सत्र के दौरान तेजस्वी यादव ने विधानसभा में बिहार में बढ़ रहे अपराध के स्तर पर भी नीतीश सरकार को घेरा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × four =