बिहार में तीसरे चरण के चुनाव के लिए प्रचार जोरों शोरों से चल रहा है। जिसके चलते एनडीए और महागठबंधन के नेता जमकर बयानबाजी कर रहे हैं।

महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने आज सहरसा में चुनावी रैली को संबोधित किया। इस चुनावी रैली में भारी मात्रा में भीड़ देखने को मिल रही है।

इस बार एनडीए के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार नीतीश कुमार की रैलियों से ज्यादा भीड़ तेजस्वी यादव की जनसभाओं में एकत्रित हो रही है। जनसभा में तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार को घेरते हुए महंगाई का मुद्दा उठाया।

एएनआई न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक, तेजस्वी यादव ने कहा कि प्याज का दाम सेंचुरी और आलू का दाम हाफ सेंचुरी मार दिया है। यही भाजपा के लोग प्याज की माला पहनकर घूमा करते थे और गाना गाते थे ‘महंगाई डायन खाए जात है।’

अब जब प्याज का दाम 100 रु. किलो हो गया है इन्हें महंगाई डायन नहीं भौजाई नजर आ रही है।

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव अपनी चुनावी रैलियों में भाजपा-जदयू गठबंधन पर जमकर कटाक्ष कर रहे हैं।

इससे पहले भी अपनी कई रैलियों में उन्होंने राज्य में बढ़ रही प्याज की कीमतों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से जवाब माँगा था।

तेजस्वी यादव का कहना है कि यूपीए के कार्यकाल में भाजपा के नेता गले में प्याज और आलू की माला पहन कर ”महंगाई डायन खाए जात है” गीत गाया करते थे।

लेकिन आज वही नेता महंगाई के मुद्दे पर गूंगे और बहरे हो चुके हैं। ऐसा लग रहा है कि आज महंगाई डायन से उनकी भौजाई बन गई है।

राजद नेता तेजस्वी यादव का कहना है कि इस बार के चुनाव में एनडीए का सूपड़ा साफ हो जाएगा। इस बार राज्य में महागठबंधन की सरकार बनेगी क्योंकि नीतीश सरकार ने तो इन सालों में बिहार का विकास करने की जगह पीछे धकेल दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + 8 =