‘शिक्षा है तो सब कुछ है’ के नक्शे कदम पर तेजस्वी यादव चल पड़े हैं। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव के 10 लाख सरकारी नौकरी देने के वादे की बिहार के साथ पूरे देश में चर्चा हो रही है।

तेजस्वी अपनी सभी सभाओं में बिहार के 10 लाख युवाओं को जोरदार तरीके से नौकरी देने की बात कर रहे हैं। उन्हें जबरदस्त समर्थन भी मिल रहा है।

राजद ने एक और बड़ी घोषणा की है। जिसमें यह कहा गया है कि अगर आरजेडी नित तेजस्वी यादव सरकार बनती है तो बिहार की जीडीपी का 22% शिक्षा पर खर्च किया जाएगा।

आरजेडी की इन घोषणा के बाद मानों बिहार को खस्ता हो चुकी शिक्षा व्यवस्था को जान मिल गई हो।

राजद नेता तेजस्वी ने कहा है कि महागठबंधन की सरकार बनी तो बजट का 22 प्रतिशत शिक्षा पर खर्च किया जाएगा।

यह राष्ट्रीय औसत से भी कई गुना ज्यादा होगा। इससे शिक्षा की गुणवत्ता में बेहतर सुधार हो सकेगा। बिहार में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास किये जायेंगे।

एक संवाददाता सम्मेलन में तेजस्वी यादव ने कहा कि उनके पास विकास का पूरा रोडमैप है। जिससे वो बिहार का चहुमुखी विकास कर सकते हैं।

तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री जेडीयू नेता नीतीश कुमार और भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि, वे जो 15 साल में नहीं कर पाए वो हम करने जा रहे हैं। 10 लाख सरकारी नौकरी देने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + seven =