केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार और हिंदूवादी संगठन आरएसएस की सांठ-गाँठ पर देश के विपक्षी दलों द्वारा अक्सर सवाल उठाए जाते रहे हैं।

अब राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने किसान संगठनों द्वारा किए गए भारत बंद का समर्थन करते हुए आरएसएस पर निशाना साधा।

संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा बुलाए गए भारत बंद का हिस्सा बनने के दौरान राजद नेता जगदानंद सिंह ने मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने हिंदूवादी संगठन आरएसएस को अंग्रेजों का दलाल करार दिया।

उन्होंने देश के किसानों को खालिस्तानी और पाकिस्तानी के जाने का विरोध करते हुए कहा कि हमें देश के वो लोग किसान नहीं मान रहे हैं।

जो खुद अंग्रेजों की दलाली करते रहे हैं। जिन लोगों ने देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या की थी।

इस मौके पर देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करते हुए राजद नेता जगदानंद सिंह ने कहा कि बापू यह मानते थे कि हमारा देश गाँवों का देश है। इस देश का विकास तब तक नहीं हो सकता। जब तक देश के गांव विकास नहीं करेंगे।

उन्होंने केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आखिर आज भारत दुनिया का सबसे भूखा राष्ट्र क्यों बन गया है?

वहीं बिहार देश का सबसे भूखा राज्य है। जहां गरीबी और भुखमरी चरम सीमा पर पहुंच गई है।

आपको बता दें कि यह राजद नेता इससे पहले भी हिंदूवादी संगठन आरएसएस पर कई बार इस तरह की टिप्पणियां कर चुके हैं। हाल ही में उन्होंने आरएसएस को भारत का तालिबान करार दिया था।

आरएसएस को भारत का तालिबान करार देते हुए राजद नेता ने कहा था कि जिस तरह से अफगानिस्तान में तालिबान एक संस्कृति है।

उसी तरह से भारत में आरएसएस ही तालिबान है। आरएसएस के लोग हमेशा देश के अल्पसंख्यकों को मारते हैं।

इस दौरान उन्होंने यहां तक कह दिया कि अगर तालिबानी संगठन धार्मिक उन्मादी हैं तो फिर आरएसएस भी वही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 18 =