बिहार में एक बार फिर से नीतीश कुमार के सरकार का गठन होने जा रहा है। राज्य के अगले सीएम के रूप में आज नीतीश कुमार ने शपथ ले ली है।

इस खास मौके पर देश के गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के कई दिग्गज नेता शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए।

इसके विपरीत राज्य की विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने से इनकार कर दिया। दरअसल बिहार चुनाव के नतीजों के बाद से ही एनडीए और महागठबंधन के बीच तकरार देखने को मिल रही है।

राज्य समेत देश की कई विपक्षी पार्टियों ने एनडीए पर धांधली के जरिए बिहार चुनाव जीतने के आरोप भी लगाए।

अब खबर सामने आ रही है कि राजद ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के जरिए नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने से इनकार किया है।

राजद ने ट्वीट कर लिखा है कि “राजद शपथ ग्रहण का बायकॉट करती है। बदलाव का जनादेश NDA के विरुद्ध है। जनादेश को ‘शासनादेश’ से बदल दिया गया।

बिहार के बेरोजगारों,किसानो,संविदाकर्मियों, नियोजित शिक्षकों से पूछे कि उनपर क्या गुजर रही है। NDA के फर्ज़ीवाड़े से जनता आक्रोशित है। हम जनप्रतिनिधि है और जनता के साथ खड़े है।”

राजद ने एक बार फिर से एनडीए पर फर्जीवाड़े के जरिए जीत हासिल करने की बात कही है।

इससे पहले राजद नेता तेजस्वी यादव यह ऐलान कर चुके हैं कि राज्य में जनता का फैसला महागठबंधन के पक्ष में था। लेकिन एनडीए ने चोर दरवाजे से एंट्री मारी है।

इससे पहले भी राजद ने एक ट्वीट के जरिए एनडीए को घेरा था। राजद का कहना है कि बिहार में तो मजदूरों की मजबूत सरकार बनने जा रही है। राजद ने नीतीश कुमार सरकार को भ्रष्ट सरकार करार दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − fifteen =