एक तरफ जहां बिहार में इस बात की चर्चा चल रही है कि नीतीश कुमार चौथी बार राज्य के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं।

वहीं दूसरी तरफ से बिहार के वैशाली से एक लड़की को जिंदा जलाकर मारने का मामला सामने आया है। जिसकी वजह से नीतीश कुमार एक बार फिर से चर्चा में आ गए हैं।

खबर के मुताबिक, वैशाली के देसरी थाना अंतर्गत चंदपुरा ओपी के एक गाँव में 20 साल की युवती के साथ कुछ दबंगों ने छेड़खानी की। लेकिन जब लड़की ने इस छेड़खानी का विरोध किया तो दबंगों ने युवती पर केरोसीन का तेल डाल कर उसे जिंदा जला डाला।

पीड़िता को पटना के पीएमसीएच अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां 15 दिनों तक उसका इलाज चला। लेकिन अब पीड़िता की मौत हो गई है।

परिवार ने बताया है कि आरोपी सतीश यादव उनके गांव का ही रहने वाला है। जो कि अक्सर उनकी बेटी के साथ छेड़खानी क्या करता था।

जब उन्होंने आरोपी के घर वालों से इस बात की शिकायत की। तो उसने अपने कुछ दबंग साथियों के साथ मिलकर पहले उनकी बेटी के साथ छेड़खानी की और बाद में उसे जिंदा जला डाला।

इस मामले में जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष और नेता पप्पू यादव ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने नीतीश कुमार को शपथ ग्रहण करने से पहले पीड़िता को इंसाफ देने की बात कही है।

पप्पू यादव ने ट्वीट कर लिखा है कि “वैशाली की बेटी को जिंदा जला देने वालों को बिना दंडित किये महिला सशक्तिकरण कैसा?

मुख्यमंत्री तत्काल उनके हत्यारों को न्याय के दायरे में लाएं। अपने शपथ ग्रहण से पहले इंसाफ दिलाएं! अन्यथा, उस मां के आंसुओं का सैलाब बहुत भारी पड़ेगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − one =