आज बिहार में दूसरे चरण के चुनाव के लिए 94 विधानसभा पर मतदान हो रहा है। वहीँ आखिरी चरण के लिए चुनाव प्रचार शुरू हो गया है।

बिहारवासियों का भाजपा जदयू गठबंधन पर साफ दिखने लगा है। जगह जगह भाजपा नेताओं का विरोध उसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बेतहाशा गुस्सा देखने को मिल रहा है।

आज राज्य में पीएम मोदी और सीएम नीतीश कुमार की रैलियां हो रही हैं।

इसी बीच खबर सामने आई है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जनसभा में लोगों ने उन पर प्याज फेंके हैं।

बेरोजगारी के बाद मंहगाई पर भी भाजपा गठबंधन का विरोध होने लगा है।

दरअसल नीतीश कुमार चुनाव प्रचार के लिए मधुबनी के हरलाखी में जनसभा को संबोधित करने के लिए पहुंचे थे।

लोगों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया। इस दौरान नीतीश कुमार मंच पर थे तो लोगों ने उनपर प्याज फेंकने शुरू कर दिए।

लोगों द्वारा प्याज की बरसात करने के बाद गुस्से में लाल हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंच से कहा कि ‘खूब फेंको, फेंकते रहो’… इसका कोई असर नहीं पड़ेगा।

इस घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। बताया जा रहा है कि घटना के बाद वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने नीतीश कुमार की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक एक घेरा बना दिया। इस सुरक्षा घेरे में ही नीतीश कुमार ने अपना बाकी भाषण पूरा किया।

गौरतलब है कि इससे पहले भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की रैलियों में बवाल मच चुका है। दरअसल राज्य में बढ़ रही महंगाई को लेकर आम जनता में नीतीश सरकार के खिलाफ भारी रोष है।

दरअसल बीते कुछ वक्त से बाजार में प्याज की कीमतें आसमान छू रही हैं। जिससे गरीब और मध्यमवर्गीय लोगों की परेशानियां बढ़ चुकी हैं।

लोगों का यह गुस्सा भाजपा और जदयू की रैलियों में साफ तौर पर देखने को मिल रहा है।

आपको बता दें कि विपक्षी दल भी अपनी रैलियों में महंगाई के मुद्दे पर नीतीश कुमार पर हमलावर हो रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 3 =