बिहार विधानसभा चुनाव में हार के बाद महागठबंघन की ओर से लगातार चुनाव में धांधली किए जाने के आरोप लगाए जा रहे हैं। महागठबंधन का कहना है कि चुनाव आयोग की मिलीभगत से बिहार में जनमत की चोरी की गई है।

इन्हीं आरोपों के मद्देनज़र महागठबंधन के समर्थक अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करने सड़कों पर उतर आए हैं।

जानकारी के मुताबिक, राज्य के भोजपुर ज़िले में आक्रोशित महागठबंधन समर्थक गुरुवार (12 नवंबर) की सुबह सड़क पर उतरे। इस दौरान आक्रोशित समर्थकों ने उदवंतनगर थाना के मलथर गांव के पास आरा-मोहनिया एनएच -30 को जाम कर विरोध-प्रर्दशन किया।

हालांकि इस दौरान नाराज़गी ने हिंसक रूप भी लिया। टायर जलाकर आगजनी की गई और जाम में फंसे कई राहगीरों को लाठी-डंडों और बेल्ट से पीटा गया।

आक्रोशित राजद समर्थकों ने इस दौरान ज़िला प्रशासन व एनडीए के ख़िलाफ़ मुर्दाबाद के नारे लगा रहे है।

प्रदर्शनकारियों ने एनडीए पर मतगणना में धांधली कर बहुमत की चोरी करने आरोप लगाया।

सड़क जाम व हंगामे की वजह से हाईवे पर जाम लग गया। जिसके बाद मौके पर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी पहुंच गए। थोड़ी देर बाद पुलिस ने बल का प्रयोग कर प्रदर्शन को खत्म करा दिया।

पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है और 30 अज्ञात एवं नामज़द लोगों के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज किया है।

भोजपुर एसपी हर किशोर राय कहा कि वीडियो फुटेज से उपद्रवियों की पहचान की जा रही हैं। दोषियों को नहीं बख्शा जाएगा। टीम गठित कर धर पकड़ की कार्रवाई जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =