इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन और एनडीए के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। इस बार राज्य की जनता बदलाव के मूड में नजर आ रही है।

माना जा रहा है कि इस चुनाव में महागठबंधन बाजी मार सकता है। लेकिन इसी बीच एक बार फिर ईवीएम में गड़बड़ी की खबर सामने आई है।

खबर के मुताबिक, बिहार के मुंगेर सदर विधानसभा सीट के एक बूथ में राजद उम्मीदवार के चिन्ह लालटेन के आगे बटन ही मौजूद नहीं था।

जिसके चलते 3 घंटे से ज्यादा वक्त तक ऐसे ही मतदान चलता रहा। लेकिन इस मामले में जब मतदाताओं द्वारा लगातार शिकायतें की गई तो लगभग साढ़े तीन घंटे के बाद ईवीएम को बदला गया।

अंदाजा लगाया जा सकता है कि 3 घंटे तक राजद उम्मीदवार को एक भी वोट नहीं मिला।

इस पूरे मामले में मुंगेर सदर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाए गए अभियान आज कुमार विद्यार्थी ने चुनाव प्रभारी शिशिर कुमार राज लालू पर एक तरफा मतदान कराए जाने के गंभीर आरोप लगाए हैं।

उन्होंने कहा है कि जब मतदान शुरू हुआ और उनके नाम के आगे बटन मौजूद नहीं था। तो इसकी शिकायत चुनाव प्रभारी से की गई थी। लेकिन इसके बावजूद उन्होंने मशीन बदले जाने तक मतदान नहीं रोका।

उनकी शिकायत को अनसुना करते देख जब स्थानीय लोग गुस्से में आ गए। तो लोगों ने इसकी जानकारी मीडिया को दी मीडिया के हस्तक्षेप के बाद वहां पर ईवीएम को बदला गया।

गौरतलब है कि भाजपा पर इससे पहले भी ईवीएम के साथ छेड़छाड़ के आरोप लग चुके हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भी ईवीएम टेंपरिंग का मामला सामने आया था।

जिसके चलते विपक्षी दलों द्वारा बैलट पेपर से चुनाव करवाने की मांग की है। राजद नेता का आरोप है कि जानबूझकर उस बूथ पर खराब ईवीएम रखा गया। क्यूंकि नीतीश सरकार ये जान चुकी है कि इस बार उनकी हार होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + 5 =