kashmir un
Kashmir UN
  • 369
    Shares

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में आज रात पहली बार कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मुद्दे पर बंद कमरे में चर्चा होने जा रही है। यह चर्चा चीन की मांग के मद्देनजर की जा रही है।

चीन ने ‘कोई अन्य कामकाज बिंदु’ के तहत कश्मीर मुद्दे पर चर्चा का अनुरोध किया है। बता दें कि चीन ने पिछले साल ही जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद इस मुद्दे को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में बैठक की मांग की थी। जिसे तब यूएनएससी सदस्यों ने खारिज कर दिया था।

ज़ाकिर नाइक का ख़ुलासा- सरकार ने कश्मीर पर समर्थन के बदले भारत वापस लौटने की पेशकश की थी

फ्रांसीसी राजनयिक के एक सूत्र ने बताया कि अब यूएनएससी में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के लिए चीन की मांग को स्वीकार कर लिया गया है। वहीं उन्होंने आगे कहा कि कश्मीर मुद्दे पर फ्रांस का रुख साफ है। फ्रांस का मानना है कि यह मुद्दा द्विपक्षीय स्तर पर सुलझाया जाना चाहिए।

इससे पहले पाकिस्तान ने भी बैठक के लिए अगस्त महीने में सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष पोलैंड को पत्र लिखा था। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि उनके देश ने, जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के भारत के फैसले पर चर्चा के लिए सुरक्षा परिषद की आपात बैठक बुलाने की औपचारिक मांग की है।

CAA पर बवाल : काटजू बोले- कश्मीर की तरह असम भी जल रहा है, ये पूरे भारत में आग लगा देंगे

वहीं भारत के रुख की बात करें तो विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को बीजिंग में चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ हुई द्विपक्षीय मुलाकात में स्पष्ट किया था कि जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने का फैसला भारत का आंतरिक मामला है।

उन्होंने कहा था कि यह बदलाव बेहतर प्रशासन और क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए है एवं फैसले का असर भारत की सीमाओं और चीन के साथ लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर नहीं पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here