सितंबर महीने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अमेरिका में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम बड़े जोर-शोर से करके आए थे। भारत की मीडिया ने इस कार्यक्रम को बड़ा इवेंट बना दिया, एक दिन पहले से ही इस कार्यक्रम को लेकर लाइव रिपोर्टिंग होने लगी। पीएम मोदी को इंटरनेशनल स्टार की तरह भारत में पेश किया गया। मोदी ने इसी कार्यक्रम से अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की तारीफ में बोल आए थे कि, “अबकी बार ट्रंप सरकार।”

लेकिन, नरेन्द्र मोदी की ट्रंप की और अमेरिका की तारीफ करना भी काम नहीं आ रहा है। ट्रंप ने मोदी के स्वच्छता और प्रदूषण पर सीधा हमला किया है। डोनाल्ड ट्रंप ने भारत पर हमला करते हुए कहा है कि, भारत से अमेरिका में गंदगी आ रही है। ट्रंप ने प्रदूषण को लेकर भारत को निशाने पर लिया है। उन्होंने इकॉनमिक क्लब ऑफ न्यूयॉर्क में लोगों से कहा,

“भारत, चीन और रूस की गंदगी बहती हुई लॉस ऐंजिलिस तक पहुंच रही है। आपको पता है कि यहां एक समस्या है। इन तीनों देश की तुलना में हमारे पास जमीन का छोटा टुकड़ा है। अगर आप चीन, रूस भारत जैसे देशों से तुलना करें तो ये सफाई और धुआं को रोकने के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं। ये अपनी गंदगी समंदर में डाल रहे हैं और बहते हुए लॉस ऐंजिलिस तक पहुंच रही है।”

ट्रंप इससे पहले भी साफ़ हवा-पानी और प्रदूषण को लेकर भारत पर हमला बोल चुके हैं। जून महीने में ट्रंप ने कहा था कि, भारत, चीन, रूस जैसे देशों में अच्चिन हवा और पानी तक नहीं है। विश्व के पर्यावरण को लेकर ये देश अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाते हैं और न ही इन देशों को इस जिम्मेदारी का अहसास है। इन देशों में प्रदूषण को लेकर और सफाई को लेकर कोई सोच नहीं है। स्वस्छता और प्रदूषण को लेकर समझ तक नहीं है।”

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का भारत को लेकर प्रदूषण और स्वस्छता पर ये बयान पीएम नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार के लिए बड़ा झटका है। क्योंकि मोदी स्वस्छता को लेकर भारत में अभियान चला रहे हैं लेकिन उनके अच्छे दोस्तों में से एक ट्रंप ने ही स्वस्छता की हवा निकाल दी है। ट्रंप मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कह रहे हैं कि भारत में स्वस्छता और प्रदूषण को लेकर समझ तक नहीं है।

बता दें कि भारत के कई हिस्सों में एयर क्वालिटी इंडेक्स खतरनाक से आपात स्तर पर पहुंच गया है।