अमेरिकी संसद पर हमले को लेकर पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बयान जारी किया है। उन्होंने हमले को एक साज़िश करार देते हुए इसके लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को ज़िम्मेदार ठहराया है।

उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर डोनाल्ड ट्रंप द्वारा लगातार बोले जा रहे झूठ की वजह से ही हिंसा भड़की।

ओबामा ने एक बयान में कहा कि इतिहास में इस हिंसक घटना को याद रखा जाएगा जिसे मौजूदा राष्ट्रपति द्वारा उकसाया गया है, जो कानूनी तरीके से हुए चुनाव के परिणाम को लेकर आधारहीन झूठ बोल रहे हैं। यह हमारे देश के लिए अपमान और बहुत शर्म की बात है।

उन्होंने कहा कि रिपब्लिकन नेता अपने समर्थकों को चुनाव के बारे में सच्चाई बताने को तैयार नहीं हैं। रिपब्लिकन नेता या तो सच्चाई को अनदेखा करते रहें या फिर वास्तविकता को स्वीकार करें।

बता दें कि बुधवार को ट्रंप समर्थकों ने नेशनल कैपिटल पर हमला कर संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था। जिसके चलते संसद सत्र बाधित हो गई। इस सत्र में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन की जीत की पुष्टि होनी थी।

यह हिंसक घटना ट्रंप द्वारा व्हाइट हाउस के पास हजारों समर्थकों को संबोधित किए जाने के बाद हुई। घटना में चार लोगों की मौत हो गई। फिलहाल पुलिस और सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को वहां से तितर-बितर कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × one =