‘दिल्ली चलो आंदोलन’ के तहत पंजाब और हरियाणा के किसानों द्वारा मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ मोर्चा खोल दिया गया है।

बीते 2 दिनों से पंजाब हरियाणा बॉर्डर पर राज्य की पुलिस और सैनिक बलों द्वारा किसानों को रोकने की पूरी कोशिश की जा रही है। लेकिन किसानों किसी को भी अपने मकसद के आड़े नहीं आने दे रहे हैं।

पंजाब के किसान प्रदर्शनकारियों में महिलाएं भी सरकार का जमकर विरोध कर रही हैं। सोशल मीडिया पर पंजाब की कुछ महिलाओं की वीडियो वायरल हो रही है। जिसमें उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती दी है।

उन्होंने कहा है कि ऐसी सरकार कभी नहीं आई, जो किसानों को परेशान कर रही है। इस सरकार ने हमें हैरान कर के रख दिया है। हमारी जमीन छीनने की कोशिश की जा रही है।

जब हमारी जमीन नहीं रहेंगी तो हम जिंदा रह कर क्या करेंगे। सड़कों पर बम गिरा के ही यह सरकार भले हमें मार डाले।

इससे पहले देश के किसी भी प्रधानमंत्री ने किसानों के लिए इस तरह का फैसला नहीं सुनाया था। इन महिलाओं ने भाजपा को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर हमें रोकने की कोशिश की गई तो हमने जिस तरह से अंबाला का बॉर्डर तोड़ा है। वैसे ही सभी बॉर्डर से को तोड़ डालेंगे।

इन महिलाओं का कहना है कि वह देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से परेशान हो चुके हैं। वह हमारे सामने आकर हमारा सामना करें।

इस वीडियो को विनोद कापड़ी ने शेयर करते हुए लिखा है कि पंजाब की ये तीन माँ / दादी जो कह रही हैं , वो आपको पसंद नहीं आएगा प्रधानमंत्री जी। फिर भी सुन लीजिए।

वहीँ पूर्व पत्रकार ओम थानवी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है कि “ये पानी की बौछारें हमें क्या रोकेंगी। हम चूल्हा यहीं जलाएँगे। प्रदर्शन नहीं हटेगा। मोदी, हिम्मत है तो सामने आओ।” सड़क पर किसान। बुज़ुर्ग माँएँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 3 =