• 1.5K
    Shares

रविवार को रामपुर से गठबंधन के प्रत्याशी और सपा नेता आज़म खान ने एक रैली में अपनी प्रतिद्वंदी समकक्ष जया प्रदा के लिए तथाकथित विवादित बोल का इस्तेमाल किया।

आज़म खान के इस बयान की मीडिया से लेकर बीजेपी नेता खूब आलोचना कर रहे हैं। यहाँ तक की बीजेपी और कुछ पत्रकार आज़म खान का टिकट काटने की मांग कर रहे हैं।

भाजपा की वरिष्ठ नेत्री और केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्वीटर पर आज़म खान के वीडियो को ट्वीट करते हुए समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को संबोधित करते हुए लिखा है कि, “मुलायम भाई आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के। आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीरहरण हो रहा है। आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिए।”

अब सुषमा स्वराज के इस तरह के ट्वीट करने पर वो खुद विवादों में घिर गई हैं। मोदी सरकार के पिछले पांच साल के दौरान देश में हुई मॉब लिंचिंग और बच्चियों की रेप की घटनाओं पर चुप रहने वाली सुषमा किस तरह से भाजपा नेता (जया प्रदा) की विचारधारा को बताने पर आज़म खान को घेरने में लगी हैं!

सुषमा जी, पाक की हिंदू लड़कियों पर चिंता और गुरुग्राम में मुस्लिम परिवार की पिटाई पर चुप्पी क्यों?

सुषमा स्वराज के इस ट्वीट पर पत्रकार विनोद कापरी ने उन्हें पिछली घटनाओं को याद दिलाते हुए लिखा है कि, “आपने सही सवाल उठाया है, पर इस बीच न जाने कितनी बार द्रौपदी का चीरहरण होता रहा। रेप से लेकर हत्या की धमकी दी जाती रहीं। आप भी तो हमेशा धृतराष्ट्र बनी रहीं।”

गौरतलब है कि, जम्मू के कठुआ में पिछले साल एक आठ साल की बच्ची आसिफा के साथ मंदिर परिसर में गैंगरेप हुआ था। जिसके बाद बच्ची की बलात्कारियों ने हत्या की दी थी। इस मामले में बलात्कारियों का समर्थन करते हुए वहां के बीजेपी नेताओं ने तिरंगा यात्रा निकाली थी।

इनमें से बीजेपी नेताओं को बाद में राज्य में मंत्री बनाया दिया गया। भाजपा के किसी भी बड़े नेता ने बलात्कारियों का समर्थन करने पर बीजेपी नेताओं न ही आलोचना की और न ही उन्हें पार्टी से निकाला! इसपर सुषमा स्वराज भी अपना मुँह दाबे चुप रहीं।

उन्नाव-कठुआ पर चुप रहने वाले मोदी ‘बेटियों’ के नहीं ‘बलात्कारियों’ को चौकीदार हैं? : RJD

बता दें कि आज़म खान ने जया प्रदा के बारे में बोलते हुए कहा था कि, ”जिसको हम ऊँगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया। उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे। मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंदरवियर खाकी रंग का है।”