10 मार्च 2019, दिन शुक्रवार। पूर्वी दिल्ली के न्यू अशोक नगर मेट्रो स्टेशन के बाहर दो लोग मुफ्त में अखबार बांटते दिखे। अखबार टाइम्स ग्रुप का था और बांटने वाले टाइम्स ऑफ इंडिया के कर्मचारी।

टाइम्स ग्रुप के इन हिंदी और अंग्रेजी अखबारों के ऊपर बीजेपी का एक रंगीन पर्चा नत्थी था जिसपर नरेंद्र मोदी, गौतम गंभीर, कमल निशाना और ईवीएम की तस्वीर थी। जाहिर है पर्चा चुनावी था।

पर्चे पर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर को वोट देने की अपील की गई थी। पूर्वी दिल्ली में गौतम गंभीर का मुकाबला ‘आप’ की आतिशी और कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली से है।

ख़ैर सवाल ये है कि क्या टाइम्स ऑफ इंडिया बीजेपी के लिए चुनाव प्रचार में उतर चुका है? अगर नहीं तो टाइम्स ऑफ इंडिया के कर्मचारी बीजेपी का पर्चा क्यों बांट रहे हैं?

बीजेपी का पर्चा और अखबार बांट रहे टाइम्स के कर्मचारी से बातचीत करने पर पता चला की वो कंपनी के कहने पर इस काम को कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि हमारा काम अखबार बांटना नहीं है लेकिन कंपनी ने भेजा है, अरजेंट है इसलिए बांट रहे हैं।

मुफ्त में अखबार बांटने की वजह पूछने पर बताया कि ‘बीजेपी वालों ने कॉपी खरीदी है… तो उसकी कॉपी बांट रहे हैं।’
बातचीत के दौरान ये भी पता चला की उनसे ये काम पिछले दस दिन से करवाया जा रहा है… आज आखरी दिन है। इस काम के लिए उन्हें अलग से कोई पैसा नहीं मिलता।

जब हमने उनसे पूछा कि क्या आपको अखबार बांटने के पैसे मिलते हैं तो उन्होंने कहा ‘अरे हम तो कंपनी के एम्प्लॉई हैं, वेंडर थोड़ी हैं। ये तो अरजेंट आया था तो देना पड़ रहा है, वरना ये हमारा काम थोड़ी है पेपर बांटना। हमारा ऑफिस का काम है नोएडा में…’

वीडियो-