अब इसे मात्र एक संयोग कहा जाए या फिर एक सोची समझी साजिश लोकसभा चुनाव और मोदी सरकार-दो के गठन के बाद उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं की चुन-चुन कर उनकी हत्या की जा रही है। गाजीपुर में जिला पंचायत सदस्य विजय यादव और दादरी में विधानसभा के सपा अध्यक्ष रमतेग कटारिया की हत्या के बाद अब जौनपुर से SP नेता की हत्या की खबर आ रही है।

जौनपुर के सराय ख्वाजा थाना क्षेत्र के शाहगंज-जौनपुर मार्ग पर शुक्रवार को सपा नेता लालजी यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई। सपा नेता सुबह एक स्कूल के बाहर अपनी कार में बैठकर बात कर रहे थे तभी बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर उनकी हत्या कर दी। लालजी यादव को पांच गोली मारी गई है। कार्यकर्ताओं ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।

मौके पर यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री पारसनाथ यादव और पूर्व राज्यमंत्री शैलेंद्र यादव ललई मौके पर पहुँच गए। शैलेंद्र यादव ने कहा कि, इस देश में कबतक धर्म और जाति की राजनीती चलती रहेगी? इस हत्याकांड के तार शासन से जुड़े हैं, जिसमें पुलिस और जिला प्रशासन मदद कर रहा है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

डंके की चोट पर विधायक-पार्षद को खरीदने वाले को गोदी मीडिया ‘चाणक्य’ का दर्जा दे रहा हैः सपा नेता

वहीं पारसनाथ यादव ने कहा कि अगर पुलिस प्रशासन जल्द से जल्द इस हत्याकांड का खुलासा नहीं करता है तो जौनपुर की सड़कों पर खून बहेगा। क्योंकि जब से इस देश में नई सरकार ने शपथ ग्रहण किया है तब से पूर्वांचल में क्राइम का ग्राफ बढ़ गया है।

इससे पहले दिल्ली से सटे और NCR में आने वाले VVIP जिले गौतमबुद्धनगर के दादरी विधानसभा के सपा अध्यक्ष रमतेग कटारिया की अज्ञात बदमाशों ने 5 गोली मारकर हत्या कर दी। जबकि, 25 मई को गाजीपुर में समाजवादी पार्टी से जुड़े जिला पंचायत सदस्य विजय यादव को घर में घुसकर अज्ञात गुंडों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

सपा के कार्यकर्ताओं की हत्या में एक बात लगभग मिलती जुलती है। मारे जाने वाले ज्यादातर नेता ‘यादव’ हैं। जौनपुर में मारे गए लालजी यादव को बदमाशों में 5 गोलियां मारी हैं और दादरी में मारे गए रमतेग कटारिया को भी बदमाशों ने 5 गोलियां मारी हैं! ये गंभीर बात है कि आखिर क्यों सपा नेताओं की ही हत्या की जा रही है?

कर्नाटक निकाय चुनाव में कांग्रेस-JDS ने मारी बाज़ी, संजय बोले- एक हफ्ते में वोटर इतना बदल गया, कैसे?

लगातार हो रही सपा नेताओं की हत्या पर समाजवादी पार्टी नेता सुनील सिंह साजन ने लिखा- जौनपुर के सरायख्वाजा में समाजवादी नेता लाल जी यादव की गोली मारकर हत्या किये जाने की दुःखद सूचना मिली! अभी 6 दिन पहले गाजीपुर में भी जिला पंचायत सदस्य विजय यादव की हत्या कर दी गयी थी! योगीजी पिछड़ों से इतनी नफ़रत है तो हमें एक साथ मरवा दो ये चुन-चुन के मारने की क्या जरूरत है?