बैकों से छह हज़ार करोड़ की धोखाधड़ी के मामले में आरोपी तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के राज्यसभा सांसद वाईएस चौधरी ने BJP का दामन थाम लिया है। चौधरी के बीजेपी में शामिल होने पर आम आदमी पार्टी (आप) के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने बीजेपी पर ज़ोरदार हमला बोला है।

आप प्रवक्ता ने ट्विटर के ज़रिए कहा, “बड़े बड़े चोरों को ढूँढो, फिर सीबीआई, ईडी से फँसाओ, धमकाओ, बदनाम करो। फिर भाजपा में जोइन करा लो। क्या भाजपा के अंध भक्तों को बिलकुल समझ नहीं आता”? 

बता दें कि टीडीपी से बीजेपी में शामिल हुए वाईएस चौधरी का नाम छह हज़ार करोड़ रुपए के बैंक घोटाले में आ चुका है। पिछले साल नवंबर में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बैंक घोटाले के मामल में वाईएस चौधरी के घर पर छापा भी मारा था। इस छापे में उनके घर से ईडी ने फेरारी, रेंज रोवर और मर्सिडीज बेंज सहित 6 लक्जरी गाड़ियां सहित कई दस्तावेज भी बरामद किए हैं।

आरोप है कि चौधरी द्वारा नियंत्रित की जा रही 120 शेल कंपनियों के जरिए ये घोटाले किए गए थे। ईडी ने दावा किया था कि उसकी जांच में पता चला है कि चौधरी का हाथ सुजाना समूह की कंपनियों के पीछे है और उसने इस बारे में साक्ष्य एकत्रित किये हैं कि सुजाना समूह की विभिन्न कंपनियों के सभी निदेशक चौधरी के निर्देशन में काम करते हैं।

6000 करोड़ की धोखाधड़ी के आरोपी वाईएस चौधरी BJP में शामिल, अब इनके भी दाग़ धुल जाएंगे?

एजेंसी ने दावा किया था कि छापे में जब्त की गई महंगी कारें इन्हीं शेल कंपनियों के नाम से पंजीकृत हैं। ईडी ने दावा किया था कि इन शेल कंपनियों द्वारा बैंकों से 5700 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी की गई।

ग़ौरतलब है कि वाईएस चौधरी साल 2014 से 2018 के बीच मोदी सरकार में राज्‍य मंत्री थे। हालांकि बीते साल टीडीपी ने केंद्र सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। इसके बाद वाईएस चौधरी ने राज्‍य मंत्री के पद से इस्‍तीफा दे दिया था। अब चौधरी बीजेपी में शामिल हो गए हैं तो ऐसा माना जा रहा है कि उन्होंने यह फैसला ख़ुद को ईडी की जांच से बचाने के लिए लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + nine =