चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही उत्तर प्रदेश समेत 5 राज्यों में आचार सहिंता लागू है। कोविड के कारण कुछ अतिरिक्त प्रतिबंध भी लगाए गए हैं। जैस- रैली, पदयात्रा आदि पर रोक।

लेकिन चिंताजनक बात ये है कि राजनीतिक दलों द्वारा अतिरिक्त प्रतिबंधों को तो छोड़ ही दीजिए, सामान्य आदर्श आचार संहिता का भी पालन नहीं किया जा रहा है। ताजा मामला बुलंदशहर का है। यहां भाजपा प्रत्याशियों व उनके समर्थकों द्वारा लगातार नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है।

बुलंदशहर के सदर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी हैं प्रदीप चौधरी। सोशल मीडिया पर इनके प्रचार के लिए एक पोस्टर शेयर किया गया था। इस पोस्टर में लिखे वाक्य से पता चलता है कि भाजपा प्रत्याशी मुसलमानों को दंगाई बताकर वोट मांग रहे हैं। पोस्टर पर लिखा है- ”छोटा पजामा, कुर्ता लम्बा। चाहिए शांति या फिर दंगा। शांति और विकास के लिए भाजपा को वोट करें।”

Image

पोस्टर को शेयर करने का आरोप भाजपा के प्रचार प्रमुख आनंद कुमार पर है। इस मामले में बुलंदशहर सदर विधानसभा सीट की रिटर्निंग ऑफिसर मोनिका सिंह ने संज्ञान लेते हुए भाजपा नेता आनंद कुमार को नोटिस जारी किया है। भाजपा नेता को अपना जवाब दाखिल करने के लिए दो दिन का समय दिया गया है।

Image
नोटिस में कहा गया है कि पोस्टर में भड़काऊ शब्दों का प्रयोग कर आचार संहिता का उल्लंघन किया गया है। आप पर आदर्श आचार सहिंता के उल्लंघन के मामले में कार्रवाई क्यों ना की जाए। यदि आपका उत्तर निश्चित अवधि में प्राप्त नहीं होता है तो यह समझा जाएगा कि आपको इस संबंध में कुछ नहीं कहना। और तद्नुसार कार्यवाही अमल में लायी जाएगी, जिसके लिए आप स्वंय उत्तरदायी होंगे।

इसके अलावा खुर्जा नगर क्षेत्र के कबाड़ी बाजार चौराहे के निकट राजनारायण की कोठी में बिना मास्क के कार्यक्रम करने पर खुर्जा की भाजपा प्रत्याशी मीनाक्षी सिंह सहित 300 लोगों खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 3 =