lalu yadav
Lalu Yadav

पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को राज्यसभा के लिए मनोनीत किए जाने पर देश में चारों तरफ सवाल उठ रहे है। विपक्ष से लेकर आम आदमी भी इस फैसले को लेकर सरकार पर लगातार सवाल दाग रहा है।

कांग्रेस इस फैसले को राफेल पर मोदी को क्लीन चिट देने का ईनाम बता रही तो आम आदमी पार्टी पूर्व जस्टिस गोगोई के राज्यसभा जाने पर बोल रही है कि उनको ‘सेवा की मेवा’ मिली है। मतलब साफ़ है गोगोई के राज्यसभा जाने से उनके द्वारा दिए गए फैसलों पर सवाल खड़े हो रहे है।

राफ़ेल मामले में मोदी को क्लीनचिट देने वाले गोगोई को राज्यसभा भेज BJP ने ‘सेवा का मेवा’ दिया है : AAP सांसद

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रवक्ता अरुण कुमार यादव ने भी गोगोई के राज्यसभा जाने पर सवाल उठाते हुए कहा कि “अब समझ में आ गया की गरीबों के मसीहा राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव जेल में क्यों बंद हैं।”

अरुण कुमार के अनुसार, पूर्व जस्टिस गोगोई ने ही लालू यादव की ज़मानत याचिका खारिज़ की थी जिसके कारण उनको राज्यसभा का इनाम मिला है।

आपको बता दे कि लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले में सज़ा काट रहे है और जब उन्होंने ख़राब सेहत के कारण सुप्रीम कोर्ट से बेल मांगी तो जस्टिस गोगई द्वारा उसको ख़ारिज कर दिया गया। और कहा की हम बेल देने के इच्छुक नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − fourteen =