CBI में मचे घमासान को लेकर चौतरफ़ा घिरी केंद्र की मोदी सरकार ने एजेंसी में बड़ा फेरबदल करने का फैसला किया है। सरकार ने CBI के ज्वाइंट डायरेक्टर राकेश अस्थाना सहित चार अधिकारियों का तबादला कर दिया है। इसके साथ ही कुछ अधिकारियों का कार्यकाल घटाए जाने की भी ख़बर है।

कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने गुरुवार शाम में इस संबंध में अपना आदेश भी जारी कर दिया। जिन अधिकारियों का तबादला किया गया है, उनमें ज्वाइंट डायरेक्टर एके शर्मा भी शामिल हैं। अस्‍थाना को एविएशन सिक्‍योरिटी ब्‍यूरो भेजा गया है तो तीन अ‍न्‍य अधिकारियों को भी सीबीआई से बाहर किया गया है।

खुलासा: मोदी के करीबी ‘राकेश अस्थाना’ का निकला दुबई कनेक्शन, CBI निदेशक एके शर्मा के पास है ‘सबूत’

ये फैसला ऐसे वक्त में लिया गया है जब 24 जनवरी को सेलेक्शन कमिटी नए सीबीआई चीफ पर फैसला लेगी। फिलहाल नागेश्वर राव सीबीआई के अंतरिम निदेशक के तौर पर कमान संभाल रहे हैं।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली एक उच्चस्तरीय सिलेक्शन कमिटी ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को पद से हटाने का बड़ा फैसला लिया था।

बड़ा ख़ुलासाः आलोक वर्मा से मिलकर CVC केवी चौधरी ने कहा था- ‘मोदी सरकार के क़रीबी अस्थाना को छोड़ दो’

समिति के अन्य सदस्यों में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और जस्टिस एके सीकरी शामिल भी थे। हालांकि खड़गे ने इस फैसले का विरोध किया था, लेकिन उनके इस विरोध के बाद भी यह फैसला 2-1 के बहुमत से लिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × one =