प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ की चुनावी रैली में अर्बन माओवादी जैसा काल्पनिक शब्द का ज़िक्र किया। मोदी ने कहा कि मैं आपसे कुछ मांगने आया हूं। मैं विकास की योजना लेकर आया हूं। मैं बस्तर कभी खाली हाथ नहीं आया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अर्बन नक्सलियों का समर्थन करती है,शहरी नक्सलियों के बच्चे विदेश में पढ़ते हैं, मगर वे आदिवासियों की जिंदगी तबाह कर रहे हैं।

पीएम मोदी छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जिन बच्चों के हाथ में कलम होनी चाहिए, राक्षसी मनोवृत्ति के लोग उनके हाथ में बन्दूक पकड़ा देते हैं। अर्बन माओवादी लोग खुद ऐश की जिन्दगी जीते हैं और आदिवासी बच्चों की जिन्दगी तबाह करते हैं और कांग्रेस के लोग ऐसे अर्बन माओवादी लोगों को बचाने के लिए मैदान में उतर आते हैं।

पीएम मोदी के इस बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता रनदीप सिंह सुरजेवाला ने निशाना साधा और सोशल मीडिया पर लिखा कि छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में अपनी हार को देखकर पीएम मोदी खिसियाहट से नक्सलवाद से लड़ने की बात कर रहे है जो की उन्होंने नोटबंदी करते वक़्त कहा था वो भूल गए है फरवरी 2018 तक 1030 नक्सली हमले हो चुके है जिसमें 114 जवान शहीद हो चुके है।

बता दें कि छत्तीसगढ़ में इसी महीने चुनाव होने जहां बीजेपी की पिछले 14 सालों से सरकार है। ऐसे में पीएम मोदी की कोशिश है की वो प्रदेश में रमन सरकार एक बार फिर बने और कांग्रेस और बीएसपी जैसे दल इस बार बीजेपी के विजय रथ को रोकने की पूरी तैयारी कर रहे है ऐसे में छत्तीसगढ़ में बीजेपी सरकार बना पाती है की इसके लिए नतीजों का इंतजार सभी को रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine + 7 =