बीजेपी नेता राम माधव ने पाकिस्तान कनेक्शन पर सुबूत मांगे जाने के बाद अपना बयान वापस ले लिया है।

राम माधव ने कहा- कुछ देर पहले आइजवाल पहुंचा और यह देखा। अब जब आपने किसी बाहरी दबाव से इनकार कर दिया है तो मैं अपने शब्द वापस लेता हूं।

लेकिन पीडीपी-एनसी का सरकार बनाने का प्रयास असफल रहा। इसलिए आपको अगला चुनाव भी एकसाथ लड़ना चाहिए। मैंने जो भी कमेंट किया था वह राजनीतिक था, पर्सनल नहीं था।

दरअसल बीजेपी नेता राम माधव ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए जम्मू कश्मीर में पीडीपी-एनसी और कांग्रेस के एक साथ सरकार बनाने को लेकर पाकिस्तान कनेक्शन बताया था।

राम माधव ने कहा पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस ने पिछले महीने निकाय चुनावों का बहिष्कार किया क्योंकि उन्हें सीमा पार से आदेश मिले थे। शायद इस बार भी उन्हें बॉर्डर पार से गठबंधन में सरकार बनाने का निर्देश मिला है।

जिसपर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने माधव चुनौती देते हुए कहा था कि मैं राम माधव जी को चुनौती देता हूं कि आरोप साबित करें।

आपके पास रॉ, एनआईए और आईबी है। सीबीआई भी आपके कंट्रोल में है। तो अगर आपमें हिम्मत है तो जनता के सामने सबूत रखें। वरना माफी मांगें। खराब राजनीति न करें।

बता दें कि जम्मू कश्मीर में जैसे ही महबूबा मुफ्ती ने सरकार बनाने का दावा किया था और कहा था कि नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस से समर्थन लेकर वह 56 विधायकों के साथ सरकार बनाने जा रही हैं, वैसे ही राज्यपाल ने जम्मू कश्मीर की विधानसभा भंग कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 16 =