मोदी सरकार के राज में देश के बड़े पूंजीपतियों के अच्छे दिन आ गए हैं। खासतौर पर कोरोना महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी अंबानी और अडानी पूंजीपतियों का खूब विकास हो रहा है।

जबकि देश इस वक़्त मंदी के दौर से गुजर रहा है। देश की गिर रही अर्थव्यवस्था के बीच खबर सामने आई है कि अडानी ग्रुप के मालिक गौतम अडानी की संपत्ति जोरों-शोरों से बढ़ रही है।

इस मामले में गौतम अडानी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी को भी पीछे छोड़ दिया है। साल 2020 में गौतम अडानी की संपत्ति में 19.1 बिलियन डॉलर यानी करीब 1.43 लाख करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है।

ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स के मुताबिक, जहाँ गौतम अडानी की संपत्ति 19.1 बिलियन डॉलर बढ़ी है। गौतम अडानी दुनिया के 40 वें सबसे अमीर शख्स बन गए हैं।

वहीँ रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी की संपत्ति में इस साल 16.4 बिलियन डॉलर का इजाफा हुआ है।

इस साल अडानी ग्रुप कंपनियों के चार शेयरों में जोरदार तेजी रही है। जिनके नाम है: अडानी ग्रीन एनर्जी, अडानी इंटरप्राइजेज, अडानी गैस और अडानी ट्रांसमिशन। इन शेयरों में हुई तेज ग्रोथ के चलते गौतम अडानी की दौलत बढ़ी है।

इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गाँधी ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर बिजनेसमैन गौतम अडानी की संपत्ति में इजाफे की खबर को शेयर कर लिखा है कि ”साफ़ है कि सरकार किसका विकास करने में लगी है”…

इससे पहले भी राहुल गाँधी कई बार पीएम मोदी पर देश के विकास के नाम पर अपने करीबी पूंजीपतियों के विकास करने के आरोप लगा चुके हैं।

राहुल गाँधी का कहना है कि मोदी सरकार भारत की सरकारी कंपनियों का निजीकरण कर देश को अंबानी और अडानी के हाथों बेचने पर तुली हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 3 =