असम में एक स्थानीय न्यूज़ चैनल के पत्रकार पराग भूईयां की संदिग्द परिस्थितियों में मौत होने की खबर सामने आई है।

‘प्रतिदिन टाइम’ चैनल के वरिष्ठ पत्रकार पराग भूईयां को एक वाहन ने टक्कर मार कर एक्सीडेंट कर दिया था। गंभीर हालात में उन्हें एक अस्पताल में भर्ती किया गया। जहाँ कल उन्होंने आखिरी साँसे ली।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने वाहन चालक को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में कांग्रेस ने असम में सत्तारूढ़ भाजपा की सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस ने वरिष्ठ पत्रकार की मौत को एक साजिश करार दिया है।

कांग्रेस इस मामले में सीबीआई जांच की मांग कर डाली है। कांग्रेस का कहना है कि इस घटना के पीछे षड्यंत्र है। जिसकी जांच होनी जरूरी है।

इस मामले में राहुल गांधी ने भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि “भाजपा नेताओं के भ्रष्टाचार का पर्दाफाश करने वाले असम के पत्रकार पराग भुइयां की संदिग्ध परिस्थिति में हत्या हो गई।

उनके परिवार को मेरी संवेदनाएं। असम, मध्य प्रदेश या यूपी, भाजपा शासित राज्यों में सच्ची पत्रकारिता का गला घोंटा जा रहा है और तमाशा करने वालों को सुरक्षा मिल रही है।”

वहीं इस मामले में टीवी चैनल के एडिटर इन चीफ नितुमोनी सैकिया ने भी पत्रकार पराग भूईयां की मौत पर संदेह जारी किया है।

उन्होंने कहा है कि हमें इस बात का शक है कि पत्रकार की हत्या की गई है। क्योंकि वह बीते कुछ वक़्त से काकोपोथर में भाजपा के नेताओं के भ्रष्टाचार और अवैध गतिविधियों को उजागर करने की कोशिश कर रहे थे।

इस वजह से उन्हें कई बार धमकियां भी मिल चुकी थी। हमारे चैनल के लिए ये एक संदिग्द घटना है। जिसकी जांच होनी चाहिए।

गौरतलब है कि इससे पहले भी ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं। जहाँ भाजपा के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले पत्रकारों को निशाना बनाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − twelve =