• 32.6K
    Shares

जॉर्ज फ्लोयड हत्या मामले में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार सुबह एक कॉन्फ्रेंस की। इस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि राज्यों के गवर्नर हिंसा से निपटने में अपनी कमज़ोरी दिखा रहे हैं, जबकि उन्हें प्रदर्शनकारियों पर हावी होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर आप हावी नहीं हैं, तो आप अपना समय बर्बाद कर रहे हैं।

ट्रंप के इस बयान पर ह्यूस्टन के पुलिस प्रमुख आर्ट एक्‍वेडो ने ऐतराज़ जताया है। उन्होंने ट्रंप को अपना मुंह बंद रखने की सलाह दी है। ये बात उन्होंने सीएनएन के साथ एक साक्षात्कार में कही। उन्होंने कहा, “मैं देश के पुलिस प्रमुखों की ओर से अमेरिका के राष्ट्रपति से केवल यह कहना चाहूंगा कि अगर आपके पास कहने के लिए कुछ रचनात्मक नहीं है, तो कृपया अपना मुंह बंद रखें।”

एक्‍वेडो ने कहा कि यह प्रभुत्व के बारे में नहीं है, यह दिल और दिमाग जीतने के बारे में है। उन्होंने ट्रम्प से अनुरोध किया कि वे नौजवानों की जान जोखिम में न डालें। इससे पहले कैलिफोर्निया के गवर्नर सहित कई गवर्नरों ने भी ट्रंप के ‘प्रभुत्व’ के आह्वान को अस्वीकार कर दिया था।

ह्यूस्टन पुलिस चीफ़ के इस बयान के बाद भारत में भी प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया है। लोग एक्‍वेडो की बेबाकी की तारीफ़ करते हुए पूछ रहे हैं कि क्या भारत में भी कोई पुलिस अधिकारी इस तरह से प्रधानमंत्री को बोल सकता है।

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने ट्वीट कर लिखा, “वाह! एक पुलिस प्रमुख अपने राष्ट्रपति को फटकार लगाता है। कार्यकाल की सुरक्षा का आनंद लेने के सिवा, क्या हम किसी भी मौजूदा पुलिस प्रमुख को पीएम को फटकार लगाता देखते हैं?

बता दें कि अश्वेत फ्लॉयड की मौत के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों की आग अमेरिका की 140 शहरों तक पहुंच गई है, जिसे देश में पिछले कई दशकों की सबसे खराब नागरिक अशांति माना जा रहा है। इन प्रदर्शनों के बीच पुलिस की तरफ़ से भी अच्छी पहल देखने को मिली है। इससे पहले पुलिस ने प्रदर्शकारियों के साथ एकजुटता दिखाते हुए घुटनों पर बैठकर फ्लोयड की मौत की निंदा की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here