रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी के कथित व्हाट्सएप चैट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है। इसमें अर्णब बार्क के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता से टीआरपी रेटिंग को लेकर बातचीत कर रहे हैं।

इस चैट लीक की तुलना लोग राडिया टेप से कर रहे हैं और अर्णब के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई किए जाने की मांग कर रहे हैं।

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने अपने ट्विटर हैंडल से अर्णब के इस चैट के स्क्रीनशॉट को साझा करते हुए उनपर ज़ोरदार हमला बोला है।

उन्होंने अर्णब पर आरोप लगाते हुए कहा कि अर्णब अपने पद का गलत प्रयोग कर रहे हैं और राजनीतिक गलियारों में अपनी पहचान का इस्तेमाल व्यक्तिगत फ़ायदे के लिए कर रहे हैं।

प्रशांत भूषण ने लिखा, “यह बार्क के सीईओ और अर्णब गोस्वामी के बीच हुए बातचीत के लीक स्नैपशॉट्स हैं। इन स्क्रीनशॉट से अर्णब गोस्वामी की राजनीतिक गलियारों में पहुंच और तमाम साजिशों का पता लगता है”।

उन्होंने आगे लिखा, ‘साथ ही यह भी पता लगता है कि किस तरीके से मीडिया और अपनी पोजीशन का बतौर ब्रोकर दुरुपयोग किया गया।’

वरिष्ठ अधिवक्ता ने इसके साथ लिखा, “कानून के रास्ते पर चलने वाले किसी भी देश में लंबे समय तक जेल भेजने के लिए ये काफी है”।

बता दें कि टीआरपी स्कैम की सुनवाई को बॉम्बे हाईकोर्ट ने 29 जनवरी तक के लिए टाल दिया है। इस मामले की सुनवाई 29 जनवरी को होगी। वहीं मुंबई पुलिस का कहना है कि अगली सुनवाई तक वो अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार नहीं करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + 3 =