• 2.1K
    Shares

मालेगांव बम धमाकों की मुख्य आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो गई हैं। साध्वी प्रज्ञा के BJP में शामिल होने के बाद ये अटकलें लगाई जा रही हैं कि पार्टी उन्हें भोपाल लोकसभा सीट से दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनावी मैदान में उतार सकती है।

साध्वी प्रज्ञा के BJP में शामिल होने की अटकलें काफी दिनों से चल रही थीं। अब बुधवार को औपचारिक तौर पर साध्वी प्रज्ञा के बीजेपी में शामिल होने के बाद ये तय माना जा रहा है कि वह भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के खिलाफ़ चुनाव लड़ेंगी।

बताया जा रहा है कि साध्वी प्रज्ञा के नाम पर बीजेपी के भोपाल दफ्तर में बंद कमरे में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा हो रही है। इस बैठक में रामलाल, शिवराज सिंह सुहास भगत, अनिल जैन, प्रभात झा सहित अन्य नेता मौजूद हैं। सूत्रों के मुताबिक साध्वी की उम्मीदवारी का ऐलान बुधवार शाम तक किया जा सकता है।

राज ठाकरे ने की BJP को वोट ना देने की अपील- झूठ और नफरत फैलाने वालों को सत्ता से हटाए

बीजेपी में औपचारिक तौर पर शामिल होने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने मीडिया से बातचीत में कहा, “मैंने औपचारिक रूप से बीजेपी की सदस्यता ले ली है। मैं चुनाव लड़ूंगी और जीतूंगी भी। मेरे पास शिवराज सिंह चौहान का समर्थन है”।

वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने साध्वी प्रज्ञा के BJP में शामिल होने पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि साध्वी का बीजेपी में शामिल होना पार्टी की मनोदशा को दिखाता है।

राहुल को मां की गाली देने वाले BJP नेता पर भड़कीं पत्रकार, कहा- महिलाएं भाजपा को वोट ना दें

साध्वी प्रज्ञा के बीजेपी में शामिल होने पर सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने ज़ोरदार कटाक्ष किया है। उन्होंने ट्विटर के ज़रिए कहा, “अब बीजेपी ने एक आतंकवादी को अपना प्रत्याशी बनाया है। अब आप समझे कि मोदी के ‘हम घर में घुसकर मारते हैं’ का क्या मतलब है”!

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर 2008 के मालेगांव ब्लास्ट केस की मुख्य आरोपी रही हैं। वह इस केस में 9 सालों तक जेल में भी रही हैं। फिलहाल वो जमानत पर हैं। इस धमाके में 7 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 80 लोग जख्मी हुए थे।