भाजपा शासित त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी और सीपीआई के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पें होने की खबर सामने आई है। बताया जाता है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं ने त्रिपुरा में मुख्य विपक्षी पार्टी सीपीआई के 8 पार्टी कार्यालय में आग लगा कर उन्हें नष्ट करने की कोशिश की। वहीँ अगरतला और राज्य के तीन अन्य जिलों में भी बुधवार को कई वाहनों और संपत्तियों के साथ तोड़फोड़ की गई है।

यह हमले दक्षिणी त्रिपुरा के उदयपुर, संतिरा बाजार, पश्चिम त्रिपुरा के दुकली और सिपाहीजला जिले के बोक्सानगर, विशालगढ़ और खतलिया में किए गए हैं। अगरतला में ही एक अखबार के दफ्तर प्रतिबादी कलम पर भी भाजपा के कार्यकर्ताओं ने हमला किया जिसमें कई पत्रकार घायल हुए हैं।

इसकी जानकारी देते हुए प्रतिबादी कलम के संपादक अनंत राय चौधरी ने पुलिस में मामला दर्ज करवाया है। जिसके मुताबिक अगरतला में दैनिक अखबार के परिसर में तोड़फोड़ की गई। जिसमें उनके कई उपकरणों और दस्तावेजों को भी नष्ट कर दिया गया। प्रतिबादी कलम के संपादक द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं पर कारों और बाइक्स में आग लगाने का भी आरोप लगाया गया है।

बताया जाता है कि इस कथित हमले में भाजपा के कई नेता भी शामिल थे। भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा अगरतला में की गई इसे हिंसा की वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर हमला बोला है। उन्होंने इस हिंसा के वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि येमोदी और शाह द्वारा स्थापित किया गया भाजपा का गुंडाराज है।

वीडियो में देखा जा सकता है कि भाजपा के कार्यकर्ता किस तरह से गाड़ियों को तोड़ फोड़ रहे हैं। इन्होंने हाथ में भाजपा का झंडा भी थामा हुआ है। प्रतिबादी कलम के ऑफिस परिसर में डंडे लाठियों से सामान और गाड़ियों को तोड़ा जा रहा है।

आपको बता दें कि प्रतिबादी कलम पर हुए इस हिंसक हमले की अगरतला प्रेस क्लब के सचिव प्रणब सरकार सहित कई मीडिया संगठनों और वरिष्ठ पत्रकारों द्वारा निंदा की गई है। उनका कहना है कि अगर पुलिस 12 घंटे के अंदर हमलावरों को गिरफ्तार नहीं करती तो हम बड़े पैमाने पर आंदोलन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 1 =