महंगाई और ईंधन के बढ़ते दामों की मार झेल रही देश की जनता के लिए शनिवार की सुबह भी राहत की खबर ले कर नहीं आई। शनिवार को फिर से पेट्रोल-डीजल के दाम में 80 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई।

पिछले 12 दिनों में 10 बार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाये जा चुके हैं। पिछले 12 दिनों में ये 7.20 रूपये महंगा हुआ है। शनिवार को देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 102.61 रूपये प्रति लीटर ,और डीजल 93.87 रूपये प्रति लीटर हो गया। पेट्रोल-डीजल के बढ़े हुए दाम जनता के लिए मुसीबत का विषय बने हुए हैं तो दूसरी ओर शुक्रवार को CNG और कमर्शियल LPG के दाम में भारी बढ़ोतरी देखी गई थी।

शुक्रवार को CNG के दाम में 80 पैसा प्रति यूनिट का इजाफ़ा हुआ था। आईजीएल के मुताबिक इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में CNG की कीमत 60.81 रूपये प्रति यूनिट हो गई है। पिछले एक महीने के भीतर CNG चार रूपये महंगी हुई है जिस कारण टैक्सी के किराया भी बढ़ा है।

कमर्शियल LPG सिलिंडर पर 250 रुपये प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी हुई है जिसके बाद दिल्ली में 19 किलोग्राम के LPG सिलेंडर की कीमत 2,250 रूपये हो गई। पिछले साढ़े चार महीनों के दौरन ईंधन के दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई थी। पर जैसे ही पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव खत्म हुए तो ईंधन के दामों में दिन दोगुनी, रात चौगनी बढ़ोतरी हो रही है।

पेट्रोल-डीजल और CNG पर आई इस महंगाई के कारण यातायात के साथ अन्य जरूरी सेवाओं और वस्तुओं के दाम भी बढे है। तो वही इस महंगाई की चर्चा राजनीतिक खेमे में भी हो रही है।

सदन से लेकर सड़क तक विपक्ष मोदी सरकार को महंगाई के मुद्दे पर घेर रहा है, बितो दिनों कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने दिल्ली स्थित विजय चौक पर महंगाई को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया था। और मोदी सरकार से भारत के पड़ोसी देशो में पेट्रोल के कम दामों का हवाला देते हुए पूछा था कि भारत में पेट्रोल 101 रुपये लीटर क्यों है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six + seven =