संसद को अपराधी और हत्यारे मंज़ूर हैं मगर प्रगतिशील महिलाऐं नहीं। अभिनेत्री मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां राजनीति की नई पारी शुरू करने जा रहीं हैं। लेकिन कुछ लोगों को इन दोनों की संसद मे पहली एंट्री रास नहीं आई।

दोनों अभिनेत्रियां वेस्टर्न कपड़ों मे संसद पहुंची। उनकी तस्वीर जल्द सोशल मीडिया पर वायरल हो गई और आलोचकों का निशाना बनी। बीबीसी से बातचीत के दौरान मिमी ने स्पष्ट किया कि वो युवा हैं, जीन्स क्यों न पहने।

मिमी ने आगे कहा, ‘लोगों को हमारे कपड़ों से इतनी परेशानी है पर उन दाग़दार सांसदों से नहीं जिनके ख़िलाफ़ आपराधिक मामले हैं, जो भ्रष्टाचार के मामलों में लिप्त हैं पर कपड़े संतों जैसे पहनते हैं।’

बता दें हाल ही मे आई एडीआर की रिपोर्ट बताती है कि 539 विजयी उम्मीदवारों में से 233 सांसद किसी न किसी आपराधिक मामलेके आरोपित हैं।

इस बार का संसद अपने आप मे ख़ास है। महिलाओं के प्रतिनिधित्व को बल मिला है। वहीं युवा भी अपनी आवाज़ उठाते दिखाई देंगे। मिमी की उम्र 30 वर्ष है। उन्होंने कहा कि, ‘मैंने हमेशा युवा वर्ग का प्रतिनिधित्व किया है, उन्हें इस पर गर्व होता होगा कि मैं वही पहनती हूं जैसे कपड़े वो पहनते हैं।’

मिमी और नुसरत टोलीवुड की प्रसिद्ध अभिनेत्री हैं। मिमि के मुताबिक़ उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर की ऊंचाई पर राजनीति में क़दम रखा है क्योंकि उन्हें लगता है कि युवा वर्ग ही बदलाव ला सकता है।