कोलकाता में कोकीन (अवैध ड्रग्स) रखने के आरोप में गिरफ्तार की गईं बीजेपी युवा मोर्चा की नेता पामेला गोस्वामी ने बड़ा ख़ुलासा किया है।

उनका कहना है कि उन्हें एक साज़िश के तहत फंसाया गया है और इस साज़िश का मास्टरमाइंड कोई और नहीं बल्कि पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गी का सहयोगी राकेश सिंह है।

अपने आरोपों को साबित करने के लिए पामेला ने मामले में सीआईडी जांच कराए जाने की मांग की है। साथ ही उन्होंने राकेश सिंह को गिरफ्तार किए जाने की मांग भी की है। पामेला ने ये ख़ुलासा कोर्ट में पेश किए जाने से पहले मीडिया के सामने किया।

उन्होंने कहा, “मैं CID जांच चाहती हूं। बीजेपी नेता और कैलाश विजयवर्गीय के सहयोगी राकेश सिंह की गिरफ्तारी होनी चाहिए। यह उनकी साजिश है।”

वहीं बीजेपी प्रदेश कमेटी के सदस्य राकेश सिंह ने पामेला के इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है और इसे टीएमसी की साज़िश करार दिया है।

उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ टीएमसी और कोलकाता पुलिस उनके ख़िलाफ़ साज़िश रच रही है और पामेला का ब्रेनवॉश कर दिया है।

राकेश ने कहा कि वो किसी भी तरह की जांच का सामना करने के लिए तैयार हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर वो जांच में दोषी पाए गए तो राजनीति छोड़ देंगे।

बता दें कि कोलकाता पुलिस ने कोकीन रखने के आरोप में बीजेपी की युवा नेता पामेला गोस्वामी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने पामेला को उस वक्त गिरफ्तार किया, जब वह न्यू अलीपुर इलाके में एनआर एवेन्यू में अपनी कार में सवार थी। पुलिस को उनके पास से करीब 100 ग्राम कोकीन मिला।

पामेला के साथ उनके करीबी प्रोबिर डे और उनकी सुरक्षा में तैनात एक निजी गार्ड को भी गिरफ्तार किया गया। ये तीनों एक ही कार में सवार थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − three =