मध्‍य प्रदेश के सिवनी में गोमांस के शक में मुस्लिम युवक की बेरहमी से पिटाई के बाद एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है।

ओवैसी ट्विटर के ज़रिए कहा, ‘मोदी के मतदाता द्वारा बनाई गई निगरानी समिति के सदस्य मुस्लिमों के साथ इस तरह का व्यवहार करते हैं। नए भारत में आपका स्वागत है जो समावेशी है और जैसा कि पीएमओ का कहना है सेक्युलरिज्म का नकाब।’

ग़ौरतलब है कि ये घटना लोकसभा चुनाव के वोटों की गिनती से से ठीक एक दिन पहले की है। बताया जा रहा है कि इस घटना को श्रीराम सेना के अध्‍यक्ष शुभम बघेल ने अंजाम दिया है, जो भोपाल से सांसद चुनी गईं बीजेपी नेता साध्वी प्रज्ञा का करीबी है। साध्वी प्रज्ञा के साथ शुभम की एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

ख़बरों के मुताबिक, शुभम की अगुवाई में कुछ लोगों ने गौमांस ले जाने के शक में मुस्लिम युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। यही नहीं मुस्लिम युवक के साथ मौजूद एक महिला को चप्‍पलों से पीटा और उससे जय श्रीराम के नारे लगवाए।

इस घटना का विडियो भी सामने आया है। जिसमें साफ नजर आ रहा है कि लॉरी के ड्राइवर को पीटा जा रहा है। इसी लॉरी में गोमांस को ले जाने का शक था। लॉरी का ड्राइवर बेरहम भीड़ से बार-बार रहम की भीख मांग रहा है, लेकिन किसी को भी उसपर रहम नहीं आ रहा। भीड़ लगातार लाठी और डंडों से उसकी पिटाई करती रही।

वीडियो में ये भी दिख रहा है कि पिटाई के दौरान वहां और भी लोग मौजूद थे लेकिन किसी ने ड्राइवर की मदद नहीं की। ड्राइवर के साथ मौजूद मुस्लिम महिला को भी श्री राम सेना के सदस्‍यों ने नहीं छोड़ा।

पुलिस ने दावा किया है कि सभी पांच आरोपियों को अरेस्‍ट कर लिया है। पुलिस ने बताया कि शुभम को फरवरी में ही जिला बदर कर दिया गया था। उसके खिलाफ पहले भी गोमांस के शक में पिटाई के मामलों में उसका नाम आ चुका है।