• 341
    Shares

हाल ही में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नेटवर्क 18 ग्रुप को इंटरव्यू दिया। यहां उन्होंने 2014 में बीजेपी द्वारा किए गए वादों पर सवाल उठाए। साथ ही उन्होंने बीजेपी के कथित राष्ट्रवादी विचारों से असहमति भी जताई।

उन्होंने कहा कि मोदी जी के पास अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा की शादी के कार्यक्रम में जाने का समय है लेकिन जब किसानों के मुद्दों पर बात करने की बारी आती है उनके पास समय खत्म हो जाता है।

तेजस्वी ने कहा कि खाने के लिए खाना देना, रोजगार देना, किसानों की कर्ज माफी क्या राष्ट्रवाद नहीं है। आज भी किसान आत्महत्या कर रहे हैं। बेचारे किसान आंदोलन करते रह गए लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। किसानों ने मोदी जी से मिलने का समय मांगा। पर उनके पास किसानों के लिए समय नहीं था।

कमल पर ही वोट देना क्योंकि पोलिंग बूथ पर कैमरा लगा है, मोदी जी सब देख रहे हैं : BJP MLA

तेजस्वी यादव ने ट्विटर पर लिखा की मोदी खुद को चौकीदार बताते हैं, पर वे बस नाटक करते हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘किसानों ने अनेकों बार मोदी जी से मिलने का समय मांगा लेकिन मोदी जी के पास ग़रीब अन्नदाताओं के लिए समय नहीं था। मोदी जी के पास प्रियंका चोपड़ा की शादी या रिसेप्शन में शामिल होने का समय ही समय था। यह है फ़र्ज़ी चौकीदार की असल नौटंकी।’

एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार 2016 में हरियाणा में किसानी से जुड़े 250 लोगों ने आत्महत्या की। किसानों द्वारा आत्महत्या की संख्या साल-दर-साल बढ़ती जा रही है। अकेले हरियाणा और पंजाब में ही सबसे ज़्यादा किसान खुद को सूली चढ़ा लेते हैं।

जबकि सरकार बोलती है कि उनके पास किसानों की आत्महत्या से जुड़ा कोई डाटा नहीं है। ऐसा बोलने की वजह पिछले पांच सालों में सरकार की अपनी नाकामियों को छिपाना है। पिछले वर्ष किसान मीलों चलकर दिल्ली पहुंचे लेकिन उनकी सुनने कोई भी बीजेपी नेता नहीं आया। परन्तु नरेंद्र मोदी के पास इतना समय था की वे प्रियंका चोपड़ा के शादी के रिसेप्शन में पहुंच गए।