भारतीय विमान AN-32 को लापता हुए 5 दिन हो गए हैं. उसमें सवार 13 लोगों के परिवारों पर क्या बीत रही होगी ये समझा जा सकता. उन्हें ये ठीक से पता भी नहीं है कि उनके अपने किस हाल में है, ज़िंदा हैं भी या नहीं.

मज़बूत देश बनाने का दवा करने वाली मोदी सरकार भी इस मामले को सुलझा नहीं पाई है. आपको बता दें कि जो 13 लोग लापता विमान में शामिल थे, उसमें 8 क्रू मेंबर्स और 5 सशस्त्र बल के जवान शामिल थे. AN-32 विमान के साथ आखिरी बार 3 जून को अरुणाचल प्रदेश में संपर्क स्थापित किया गया था.

AN -32 विमान को गायब हुए 100 घंटों से ज़्यादा हो चुके हैं. इस विमान के खोज अभियान के लिए P-8I विमान समेत भारत की विकसित टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जा रहा है. लापता विमान और उसमें सवार 13 लोगों की खोज में आर्मी, ITBP , भारतीय नौसेना के विमान के साथ-साथ ISRO की सैटेलाइट्स भी लगी हैं. लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद खोज अभियान में कोई बड़ी सफलता हासिल नहीं हुई है.

बालाकोट में 300 आतंकियों के शव गिनने वाली BJP अब 4 दिन से लापता सेना के विमान पर चुप क्यों है?

आपको बता दें कि भारतीय वायु सेना के AN-32 विमान ने 3 जून को असम के जोरहाट से 12 : 25 बजे के करीब उड़ान भरी थी. उसको 1:30 बजे पर अरुणाचल प्रदेश के मेचूका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड पर लैंड करना था. लेकिन विमान से 1 बजे ही संपर्क खो दिया गया और वो रडार से गायब हो गया

जहाँ इस मामले पर मीडिया अपनी चुप्पी नहीं तोड़ रहा और इसपर सवाल नहीं कर रहा, तो वहीँ दूसरी तरफ सरकार में बैठे नेता भी इसपर अपनी प्रतिक्रिया देने से बच रहे हैं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ज़रूर लापता भारतीय वायु सेना अफसरों के परिवार वालों से मिलने गए थे.

4 दिनों से लापता है वायुसेना का विमान, पायलट के मां की दर्दनाक अपील- मुझे मेरा बेटा चाहिए

लेकिन सवाल उठता है कि बालाकोट एयर स्ट्राइक पर खुदको क्रेडिट तक दे देने वाले नरेंद्र मोदी इस मामले पर खुलकर क्यों नहीं बोल रहे? अशोक ने लापता विमान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए पहले ट्वीट किया था, “तीन दिन बीत गए हैं, लापता भारतीय वायु सेना AN -32 विमान अभी तक भारत के अंदर नहीं ढूंढा जा सका है, लेकिन कुछ ही घंटों में वो लोग गिन लेते हैं कि पाकिस्तान में बालाकोट एयर स्ट्राइक में कितने लोग मारे गए.”

वहीँ कांग्रेस नेता सचिन चौधरी ने ट्वीट किया- अंधेरे में 300 आतंकियों के शव गिनने वाली मीडिया 4 दिन में भी 13 वायु सैनिकों व AN-32 विमान का पता नहीं लगा पायी, खैर मनाओ चीन, लोकसभा चुनाव का समय नहीं है.. नहीं तो चौकीदार घर में घुस कर मारता ..

मज़बूत भारत बनाने का दावा करने वाले प्रधानमंत्री मोदी इसपर क्या जवाब देंगे? वो इस मामले पर एक भी ट्वीट क्यों नहीं कर पाए? राष्ट्रीय सुरक्षा केवल पाकिस्तान पर स्ट्राइक करने से सुनिश्चित नहीं की जा सकती है. भारतीय वायु सेना के एक विमान का इस तरह से गायब हो जाना भी राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मामला है.