झारखंड के सरायकेला में उग्र उग्र हिंदुत्वादी भीड़ द्वारा एक मुस्लिम यवक पीट-पीट कर हत्या के मामले पर प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है। अब कवि कुमार विश्वास ने इस मामले पर चिंता व्यक्त करते हुए इसे रोकने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अगर इसपर लगाम नहीं कसी गई तो एक दिन सभी को इसका शिकार होना पड़ेगा।

दरअसल, बीती 18 जून को सरायकेला में तबरेज अंसारी नाम के युवक को चोरी के शक में कई घंटों तक पीटा गया। इस दौरान उग्र हिंदुत्वादी भीड़ ने उससे जय श्रीराम के नारे भी लगवाए थे। युवक को बेरहमी से पीटने के बाद उग्र भीड़ ने उसे पुलिस के हवाले कर दिया था।

जिसके बाद पुलिस ने युवक को कोर्ट में पेश किया, जहां से कोर्ट ने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पुलिस कस्टडी में युवक की हालत गंभीर हो गई। जिसके बाद 22 जून को उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इसी घटना पर चिंता वियक्त करते हुए कुमार विश्वास ने कहा, “ये जाहिल राम के नाम पर बट्टा हैं! समय रहते इस जहालत से सतर्क हो कर इसे ख़त्म करिए नहीं तो कल आप और आपके बच्चों को कहीं न कहीं ऐसी ही किसी भीड़ के इसी पागलपन का शिकार होना पड़ेगा! सीएम रघुवर दास योग के मेले से मुक्ति पाकर इस विघटन से प्रदेश बचाओ नहीं तो बचोगे तुम भी नहीं”। 

बता दें कि झारखंड में ये कोई पहला मॉब लिंचिंग का मामला नहीं है। झारखंड जनाधिकार मोर्चा की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, मौजूदा भाजपा शासन में कम से कम 12 लोग यहाँ भीड़ द्वारा मारे गए। इनमें 10 मुसलमान हैं और 2 आदिवासी थे।