kannan gopinathan
Kannan Gopinathan
  • 73.1K
    Shares

उत्तर प्रदेश के बरेली में अमानवीयता की सारी हदें पार हो गई हैं। यहां दूसरी जगहों से आए गरीब मजदूर, महिलाएं और बच्चों पर एंटी लार्वा केमिकल का छिड़काव किया गया है।

बताया जा रहा है कि ये केमिकल डेंगू के मच्छर के लार्वा को मारने के काम आता है। केमिकल के छिड़काव की वजह से बच्चों सहित अन्य मजदूरों की आंखों में जलन की शिकायत सामने आ रही है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इसमें वो मजदूर भी शामिल हैं जो नोएडा से परिवार सहित पैदल चलकर बरेली पहुंचे थे। गरीबों पर किये गए इस अमानवीय घटना ने योगी सरकार के द्वारा किये जा रहे सभी दावों की पोल खोलकर रख दी है।

साथ ही सरकार की वो सारी तैयारियां भी धरी की धरी रह गईं हैं जिनके बारे में दावे किए जा रहे थे कि कोरोना वायरस से मुकाबला करने के लिए सरकार तैयार है। बरेली प्रशासन ने बाकायदा मजदूरों को खुली सड़क पर बिठा दिया और फिर इसके बाद सैनिटाइज के नाम पर केमिकल का छिड़काव कर दिया।

वहीं इस अमानवीय घटना पर पूर्व आईएएस कनन गोपीनाथन ने ट्वीट कर लिखा, “बेहद शर्मनाक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आप अक्षम, क्रूर और अपराधी हैं, ज़रा भी शर्म बची है तो इस्तीफ़ा दें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here