• 24.2K
    Shares

गुजरात में भारी बारिश के शुरू होते ही विकास मॉडल की पोल खुलने लगी है। दो दिन से हो रही मूसलाधार बारिश ने सूबे के कई शहरों को जलमग्न कर दिया है। राजकोट और जूनागढ़ बारिश से सबसे ज़्यादा प्रभावित हुए हैं। यहां जलजमाव का आलम ये है कि सड़क किनारे खड़ी गाडियां पानी में डूबी नज़र आ रही हैं।

वरिष्ठ पत्रकार शीतल पी सिंह ने फेसबुक के ज़रिए बारिश के इस कहर की कुछ तस्वीरें साझा की हैं। उन्होंने डरा देने वाली इन तस्वीरों को साझा करते हुए सरकार और प्रशासन पर सवाल खड़े किए हैं। साथ ही उन्होंने अपनी पोस्ट में गुजरात मॉडल पर भी तंज़ कसा है। उन्होंने लिखा, “गुजरात मॉडल… विकास इतना बढ़चढ़कर हुआ है कि पानी बरसते ही गुजरात के इस शहर राजकोट में सड़कों पर कारें खड़ी खड़ी डूब जाती हैं!”

उन्होंने गुजरात मॉडल पर चुटकी लेते हुए आगे लिखा, “मतलब सीवर सिस्टम एकदम यूरोप से बेहतर है, सारा पानी सड़कों पर ही जमा कर लेता है! पता नहीं, हो सकता है कि इसमें भी मोदीजी का कोई करिश्मा छिपा हो जिसे न राजकोट वाले समझ पा रहे हैं और न हम!

सिंह ने अपने पोस्ट में न्यूज़ एजेंसी ANI की उन तस्वीरों को भी साझा किया जिसमें टूटा हुआ पुल दिखाया गया है। दरअसल तस्वीरों ने नज़र आने वाला पुल जूनागढ़ के बामनासा का है। जो भारी बारिश के चलते बह गया है। इसी तस्वीर को साझा करते हुए सिंह ने लिखा, “और जूनागढ़ के बामनासा में नया बना पुल बह जाता है! लेकिन इसे भ्रष्टाचार मत कहो न। मॉडल स्टेट है।”

बता दें कि बारिश के शुरू होने के बाद से ही गुजरात से ऐसी कई तस्वीरें सामने आ रही हैं। इससे पहले राजकोट से ही एक डरा देने वाला वीडियो सामने आया था। यहां कोठरिया के रणुजा मंदिर के पास भारी बारिश के चलते नदी का पानी पुल के ऊपर से बहता नज़र आया। पानी इस तेज़ी के साथ बह रहा था कि उसमें एक बोलेरो कार फंस गई। बोलेरो में तीन लोग सवार थे, जिन्हें स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत कर बचाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here