इंदौर में चूड़ी बेचने वाले मुस्लिम लड़के की पिटाई का मामला सामने आने के बाद भले ही न्यायपसंद लोग इसकी जमकर आलोचना कर रहे हैं मगर एक बहुत बड़ा तबका बड़ी बेशर्मी से इसे सही ठहरा रहा है।

खुद को कट्टर हिंदू कहने वाली ये आबादी ऐसे ही नहीं बनी है, इसे विधिवत बनाया गया है। कभी नेताओं के जरिए तो कभी टीवी चैनलों के एंकर रिपोर्टरों के जरिए।

इसी का उदाहरण है ‘न्यूज़18 मध्य प्रदेश’ चैनल द्वारा प्रसारित किया गया स्पेशल वीडियो प्रोग्राम, जिसमें लिखा जाता है- चूड़ी तो बहाना लव जिहाद निशाना!

23 अगस्त को प्रसारित होने वाले इस प्रोग्राम की जानकारी ट्वीट करते हुए न्यूज़ 18 मध्य प्रदेश लिखता है- “चूड़ी बहाना लव जिहाद निशाना चूड़ी वाले से मारपीट के बाद बवाल चूड़ी वाले का धर्म क्या है? लव जिहाद के लिए बदल लिया नाम?

अंबानी के मालिकाना हक में आने वाले चैनल की करतूत को उजागर करते हुए पत्रकार मोहम्मद ज़ुबैर लिखते हैं- यती नरसिंहानंद जैसे लोगों में और इन न्यूज़ चैनलों में क्या फर्क रह गया है! अब आगे क्या होगा? क्या उस चूड़ी बेचने वाले पर यूएपीए लगा दिया जाएगा?

इसी मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए पत्रकार रोहिणी सिंह लिखती हैं- “भारत के सबसे धनी व्यक्ति को ऐसे जहरीले न्यूज़ चैनल नेटवर्क को क्यों फंड करना चाहिए? इस देश ने अंबानी के परिवार को बहुत कुछ दिया है, वो समाज में नफरत फैलाने की ऐसे इजाजत कैसे दे सकते हैं?”

इसी मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए पत्रकार दीपक शर्मा लिखते हैं-“बिल्कुल सही, रिलायंस मिडल ईस्ट से तेल पाता है और रिलायंस सऊदी अरब से 25 बिलियन डॉलर की डील में भी लगा है।

इन देशों को अगर पता चलेगा कि अंबानी का मीडिया इंडिया में क्या कर रहा है तो ये रिलायंस के व्यापार को भी प्रभावित करेगा। इसे अपनी संपादकीय नीति पर फिर से सोचना पड़ेगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 1 =