कर्नाटक में राजनीतिक संकट गहराता जा रहा है। राज्यपाल वजुभाई वाला ने मुख्यमंत्री कुमारस्वामी को दूसरी बार बहुमत साबित करने के लिए शाम छह बजे तक की डेडलाइन दे दी है। इस बीच विधानसभा में कोलार से जेडीएस विधायक श्रीनिवास गौड़ा ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

जेडीएस विधायक ने कहा कि बीजेपी ने मुझे पैसे ऑफर किए थे और पार्टी में शमिल होने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि बीजेपी के तरफ से उन्हें 30 करोड़ रुपए की रिश्वत देने की पेशकश की गई और 5 करोड़ रुपए तो एडवांस में उन्हें दे भी दिए गए थे। लेकिन, CM कुमारस्वामी के कहने पर विधायक ने तत्काल रुपये वापस कर दिए।

जेडीएस विधायक के आरोप का खंडन करते हुए बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि जेडीएस पार्टी से विधायक श्रीनिवास गौड़ा ने विधानसभा में आरोप लगाया कि उन्हें भाजपा द्वारा 5 करोड़ रुपये की पेशकश की गई थी। हम उसके खिलाफ विधानसभा में विशेष प्रस्ताव लेकर आएंगे।

इससे पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्‍वामी ने भी भाजपा नेता बीएस येदियुरप्‍पा पर आरोप लगाया था की वो अभी भी विधायकों की खरीद-फरोख्‍त में लगे हुए हैं। बता दें की मुख्यमंत्री कुमारस्‍वामी ने अपने दावे को साबित करने के लिए एक ऑडियो टेप भी जारी किया है। इस ऑडियो में येदियुरप्‍पा कथित रूप से जेडीएस विधायक को पैसे और मंत्री पद की पेशकश करते सुनाई दे रहे हैं।