सीबीआई बनाम ममता बनर्जी केस में देश की सबसे बड़ी अदालत ने CBI को आज तगड़ा झटका दिया है। चीफ़ जस्टिस रंजन गगोई ने सीबीआई से कहा है कि,

वो उन सारे सबूतों को लेकर आए जिस बूते वह कोलकाता कमिश्नर राजीव कुमार पर चिटफंड घोटाले के सबूत नष्ट करने का आरोप लगा रही है। सबूत लेकर आएँ राजीव कुमार के ख़िलाफ़ ऐसी कार्रवाई की जाएगी कि वो पछताएँगे

ऐसा कहते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ये मामला इतना ज़रूरी नहीं है कि इस पर आज ही सुनवाई की जाए। सबूत लेकर आइये कल सुनवाई करेंगे। अब इसकी सुनवाई कल यानी मंगलवार सुबह 10.30 बजे होगी।

CBIvsममता: CJI रंजन गगोई ने CBI को लगाई फटकार, कहा- पहले ‘सबूत’ लाए फिर करेंगे सुनवाई

मालूम हो कि CBI की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने SC में कहा था कि, अदालत इस मामले की सुनवाई करे। चिटफंड घोटाले में राजीव कुमार को आदेश दिया जाए कि वो एजेंसी का सहयोग करें।

CBI अधिकारियों को कोलकाता में गिरफ़्तार करने के लिए कोलकाता पुलिस कमिश्नर को तुरंत सरेंडर करना चाहिए।

अगर चिटफ़ंड घोटाले के मुख्य आरोपी ‘मुकुल राय’ BJP में ना गए होते, तो आज CBI उनके घर भी जाती : हार्दिक पटेल

इस पर News24 के एंकर मानक गुप्ता लिखते हैं कि-

अगर वाक़ई कोलकाता पुलिस कमिशनर के ख़िलाफ़ इतना मज़बूत केस है तो CBI आज ख़ाली हाथ SC क्यों चली गयी…!!! वो “पुख़्ता सबूत” साथ क्यों नहीं ले गयी….आज ही हो जाती सुनवाई”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × one =