Kashmir
Kashmir

कश्मीर से आई जिस तस्वीर पर पूरे देश में राजनीति हो रही है, उस पर एक बड़ा खुलासा हुआ है। कैमरे के सामने मृत व्यक्ति के पोते ने बताया है कि उसके पापा ( दादाजी) को पुलिस वालों ने गोली मारी है।

इस खुलासे के बाद राजनीति फिर से गरमा गई है क्योंकि अभी तक अधिकतर खबरें इस बात का दावा कर रही थी कि इस शख्स की हत्या मिलिटेंट्स ने गोली मारकर की है।

न्यूज़ वेबसाइट द वायर में छपी एक खबर के मुताबिक एक रिपोर्टर से बात करते हुए इस 3 साल के बच्चे ने कहा है कि ‘पापा(दादाजी) को गोली पुलिस वालों ने मारी’ ।

सबूत के तौर पर इस बच्चे के बयान का वीडियो भी जारी किया गया है जिसमें वो कई बार इसी बात को दोहरा रहा है कि उसके पापा (दादाजी) को पुलिस वालों ने गोली मारी है।

वीडियो में दिख रहे बच्चे की मासूमियत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है वो एक प्लास्टिक के टब में बैठकर खेलते हुए कुछ खा रहा है और जब रिपोर्टर दुलारकर कुछ पूछ रहे हैं तो बेधड़क बोल दे रहा है।

क्योंकि बच्चा अपने दादा जी को पापा कहता रहा है इसलिए रिपोर्टर ने बच्चे से पूछा कि- पापा को क्या हुआ? तो बच्चे ने कहा- ‘गोली मारी’ फिर रिपोर्टर पूछता है- किसने गोली मारी ? तो बच्चा कहता है ‘पुलिस वाले ने’

इसी बात को दोहराते हुए बच्चा फिर से कहता है ‘पापा को गोली मारी पुलिस वाले ने।’ तीसरी बार इसी बात को दोहराते हुए बच्चा उसके आगे बोलता है ‘मुझे गाड़ी में मजा आया था, पापा मर गया, पुलिस ने मार दिया।’

बशीर अहमद की मौत पर कल दिनभर राजनीति हुई है बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा पुलित्जर लवर्स ?

‘गोली चलाने वाले मिलिटेंट हैं’ इस बात का दावा करते हुए पात्रा का कहना है कि वो इसके जरिए पूछ रहे थे कि वह फोटोग्राफर कहां गए जिन्हें पुलित्जर प्राइज मिलता है।

हालांकि उनके इस ट्वीट पर तमाम प्रतिक्रियाएं आने लगी और संवेदनहीनता के लिए चौतरफा फटकार लगी।

मीडिया में आई खबरें और बच्चे के बयान एक दूसरे के बिल्कुल उलट हैं इसलिए भी इस मामले पर तभी निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है जबकि इसकी निष्पक्ष और गहन जांच हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × one =