• 3.4K
    Shares

भारत में इस्तेमाल किए गए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) को डिज़ाइन करने वाले अमेरिका के एक साइबर एक्सपर्ट ने सनसनीख़ेज़ ख़ुलासे किए हैं।

जिसमें कहा गया कि EVM हैकिंग के बारे में पूर्व केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे को पता था और इसे लेकर वो अपनी पार्टी को बेनकाब करने वाले थे जिसके चलते उनकी हत्या हुई। अब इस मामले पर मुंडे के भतीजे ने जांच करने की मांग की है।

मोदी के मंत्री गोपीनाथ मुंडे की हत्या की गई क्योंकि वो EVM हैकिंग के बारे में जानते थेः EVM एक्सपर्ट

NCP नेता धनंजय मुंडे ने सोशल मीडिया पर लिखा, गोपीनाथ मुंडे की मृत्यु की जांच रॉ अन्यथा सुप्रीम कोर्ट के जज की अगुवाई में होनी चाहिए। महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्ष के नेता मुंडे ने अमेरिका में रह रहे भारतीय स्वयंभू साइबर विशेषज्ञ के दावे पर आश्चर्य जताया।

उन्होंने कहा कि गोपीनाथ मुंडे से प्रेम करने वालों ने उनकी मृत्यु पर हमेशा सवाल उठाया है, उन्होंने पूछा है कि यह दुर्घटना थी या कोई साजिश।

गौरतलब हो कि 2014 लोकसभा चुनाव में भाजपा को जीत मिलने के कुछ ही सप्ताह के भीतर दिल्ली में एक सड़क दुर्घटना में गोपीनाथ मुंडे की मृत्यु हो गई थी।

बता दें कि लंदन में 21 जनवरी को भारतीय EVM को हैक करने का लाइव प्रसेंटेशन देते हुए सैय्यद शुजा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक के बाद एक कई सनसनीखेज़ ख़ुलासे किए। जिसमें कहा कि भारतीय EVM को आसानी से हैक किया जा सकता है और 2014 आम चुनावों में इसे हैक किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here