234 दिनों तक नजरबंद रहने के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला पहली एक इंटरव्यू में नजर आए। अब्दुल्ला ने इस इंटरव्यू ने हर मुद्दे पर खुल कर बात की।

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान, कश्मीर, विकास, पत्थरबाजी, कश्मीरी पंडितों की घर वापसी जैसे मुद्दों पर उमर अब्दुल्ला ने सवालों के जवाब दिए।

जब उमर अब्दुल्ला से यह पूछा गया कि बताया जा रहा है कि अनुच्छेद 370 खत्म करने के बाद जम्मू कश्मीर में काफी विकास हुआ है तब इस पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि कश्मीर का जो भी विकास नजर आ रहा है वह सब डॉ मनमोहन सिंह की सरकार के वक्त हुआ विकास है। मोदी सरकार ने कश्मीर का कोई विकास नहीं किया।

अब्दुल्ला ने कहा कि हमारा जम्मू कश्मीर… गुजरात और उत्तर प्रदेश से ज्यादा विकसित है। मानव विकास सूचकांक में भी जम्मू कश्मीर गुजरात से उपर है। ये सब पिछले दो सालों में नहीं हुआ है।

हाल के दिनों में कोई एक नया निवेश बता दिजिए जो जम्मू कश्मीर में हुआ हो। जम्मू कश्मीर में जो भी परियोजनाएं दिख रही हैं, उनमें से अधिकांश पिछली सरकारों के समय का है।

वहीं अब्दुल्ला ने कहा कि चाहे जिस तरह से कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा दिया गया लेकिन मेरा नजरिया अपने देश के लिए पहले की तरह है।

देश के प्रति मेरा नजरिया नहीं बदला है, हां मोदी सरकार के लिए मेरा नजरिया बदल गया है। मुझे 234 दिनों तक नजरबंद रखा गया। मुझे देश से नहीं बल्कि मोदी सरकार ने नजरबंद करके रखा था।

मुझे देश की न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। 370 के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई तेजी से होनी चाहिए। यह सही है कि देश की संस्थाओं पर से लोगों का भरोसा कम हुआ है।

अब्दुल्ला ने साफ तौर पर कहा कि मैं पाकिस्तान की नुमाइंदगी नहीं करता। मैंने कभी भी पाकिस्तान के साथ जाने की बात नहीं कही। जम्मू कश्मीर अलग देश बनना चाहता था।

शर्तों के साथ जम्मू कश्मीर भारत के साथ गया पर देश ने कश्मीरियों को कभी भी नहीं अपनाया। कश्मीरी अवाम के साथ किए गए वादे को भारत ने तोड़ा।

कश्मीरी पंडितों के मसले पर अब्दुल्ला ने कहा भारतीय मीडिया यह दावा करती थी कि अनुच्छेद 370 की वजह से कश्मीरी पंडितों की वापसी नहीं हो पा रही है।

मैं उनके मानवाधिकारों का सम्मान करता हूं। दो साल हो गए जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त हुए। क्या कश्मीरी पंडितों की वापसी हो गई ?

अब्दुल्ला ने बिल्कुल साफगोई से कहा कि जम्मू कश्मीर में जो भी हालात बनें वो 370 की वजह से नहीं बल्कि बंदूक की वजह से बनें।

इस इंटरव्यू में अब्दुल्ला की स्पष्टवादिता की तारीफ करते ट्वीट करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि “शाबास उमर अब्दुल्ला. यह सही समय है उनके झूठ के भंडाफोड़ करने और उनके कलंक को पंचर करने का.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 3 =