मध्यप्रदेश में जारी मतदान के बीच जहां कई जगहों से इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन ( EVM ) के खराब होने की ख़बरें आ रही हैं, वहीं मतदान के दौरान फायरिंग की खबर भी आई है। भिंड विधानसभा सीट के पोलिंग बूथ 120 और 122 पर दो गुटों के बीच झगड़े के बाद फायरिंग शुरु हो गई।

जानकारी के मुताबिक, फायरिंग के बाद दोनों ही बूथों पर मतदान रोक दिया गया है। प्रशासन का कहना है कि हालात सामान्य होने के बाद फिर से मतदान शुरु किए जाएंगे।

फिलहाल पुलिस ने फायरिंग करने वाले शख़्स को गिरफ़्तार कर लिया है। इसके साथ ही सुरक्षा के मद्देनज़र प्रशासन ने वरिष्ठ नेताओं और प्रत्याशियों को गेस्ट हाउस में नज़रबंद कर दिया है।

चुनाव से ठीक पहले एकसाथ कैसे हुई 3 अधिकारियों की मौत! कहीं EVM पर कोई खुलासा तो नहीं करने वाले थे ?

ग़ौरतलब है कि भिंड की लहार विधानसभा क्षेत्र से पूर्व गृहमंत्री एवं कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. गोविंद सिंह और भाजपा के रसाल सिंह के बीच सीधा मुकाबला है।

इस मुकाबला को काफी संवेदनशील माना जा रहा है। दो दिन पहले ही डॉ. गोविंद सिंह के भतीजे पर गोलियों से हमला किया गया था। हालांकि इस हमले में वो बाल-बाल बच गये थे।

इसके साथ ही लहार विधानसभा सीट के पोलिंग बूथ 39 और 40 पर इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन ( EVM ) तोड़ी गई हैं। बताया जा रहा है कि विधानसभा चुनाव के लिए आज सुबह आठ बजे से जारी मतदान के दौरान कुछ असमाजिक तत्व जबरन मतदान केन्द्र संख्या 39 एवं 40 में घुस आये।

EVM खराबी पर भड़के सिंधिया, बोले- लोकतंत्र में लोगों की ‘आवाज़’ कुचलने की कोशिश हो रही है

असामाजिक तत्वों ने मतदान कर्मियों से दुर्व्यहार करने के बाद EVM मशीनें तोड़ दी। मतदान केन्द्र के बाहर खड़े एक सरकारी वाहन में भी तोड़फोड़ की गयी है। घटना की जानकारी मिलने के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गुरूकरण सिंह मौक पर पहुंचे और स्थिति को काबू में किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here