railway
Railway

पहले प्याज़ महंगा हुआ फिर सिलिंडर महंगा हुआ अब रेल में सफर भी महंगा होने जा रहा है। देश की जनता सिलिंडर के महंगे होने का मातम मना ही रही थी की रेल किराये में बढ़ोतरी हो सकने की खबर भी आ गयी है।

दरअसल भारतीय रेलवे, एयरपोर्ट की तर्ज पर रेलवे के पुनर्विकसित स्टेशनों में यात्री जनसुविधा के लिए जनसुविधा विकास शुल्क वसूलने की तैयारी कर रही है। यह जनसुविधा विकास शुल्क एक तरह का टैक्स है जिसका भुगतान अभी तक हवाई यात्रा करने वॉर यात्री करते थे पर अब इस शुल्क को भारतीय रेलवे में यात्रा करने वाले यात्रियों को भी देना होगा।

CAG रिपोर्ट: रेलवे की कमाई 10 साल में सबसे ख़राब हालत में पहुंची, मोदीराज में सबकुछ चौपट होगा?

गौरतलब है की भारतीय रेलवे की स्थिति भी बहुत सराहनीय नहीं है और ऐसे में सरकार यदि स्टेशन का पुनर्विकास कर रही है तो यह एक अच्छी खबर है मगर जनता की जेब पर अतिरिक्त दबाव आने से पहले ही महंगाई किमार झेल रही जनता पर इसका बुरा असर पड़ेगा।

हालाँकि भारतीय रेलवे के अधिकारियों का कहना है की यह शुल्क काफी मामूली होगा। इस जनसुविधा शुल्क से इकठ्ठा हुए पैसों से स्टेशन का विकास किया जायेगा। बहरहाल जब देश के लोग बेरोज़गारी और महंगाई की मार से पहले ही जूझ रहे हैं ऐसे में रेलवे विभाग की तरफ से इस तरह की खबर आना जनता के लिए बेहद चिंताजनक है।

गैस के दाम बढ़ने पर फायदा ‘रिलायंस’ को होता है, क्या अंबानी BJP को दिए चंदे की वसूली कर रहे हैं?

आपकी जानकारी के लिए बता दें की सरकार के थिंक टैंक निति आयोग ने हालही में रेल मंत्रालय को खरीखोटी सुनाई थी और जल्द से जल्द 50 रेल स्टेशन का विकास करने के लिए शीर्ष अधिकारियों से सिफारिश भी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here