congress
Congress Inflation

मोदी सरकार तमाम दावों के बीच महंगाई पर लगाम नहीं लगा पा रही है। दिसम्बर में खुदरा महंगाई दर में फिर भारी बढ़ोत्तरी हुई है। दिसम्बर में खुदरा महंगाई दर 7.35 फीसदी हो गई है, जबकि यही महंगाई दर एक महीने पहले नवंबर में 5.54 फीसदी थी। खाने-पीने की चीजों के महंगे होने से ये बेतहाशा महंगाई बढ़ी है।

इसके अलावा खाद्य महंगाई दर में बभी साल के आखिरी महीने में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। नवंबर में खाद्य महंगाई दर 10.01 फीसदी थी। जो दिसम्बर में बढ़कर 14.12 फीसदी हो गई। जुलाई 2016 के बाद दिसम्बर 2019 ऐसा पहला महीना है जब महंगाई दर रिज़र्व बैंक अपर लिमिट (2-6 फीसदी) को भी पार कर गया है।

सुब्रमण्यम स्वामी का खुलासा : GDP का 4.8% भी झूठा आंकड़ा है, असल में 1.5% हो गई है GDP

इस बेतहाशा महंगाई पर कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए लिखा- 47 वर्ष की सबसे कम Consumer Spending, 6 वर्ष की सबसे कम GDP व कन्स्ट्रक्शन, 45 वर्ष की उच्चतम बेरोजगारी, 6 वर्ष की उच्चतम मुद्रास्फीति व खाद्यान्न महँगाई 14.12% (पर प्याज़ तो वित्त मंत्री खाती नहीं है पर क्या भोजन भी नहीं करेंगी ?)

दरअसल कुछ दिनों पहले संसद में किसी सांसद ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से प्याज के दाम पर सवाल किया तो उन्होंने गैरजिम्मेदाराना भरा बयान देते हुए कहा था कि, “मैं बहुत ज्यादा प्याज-लहसुन नहीं खाती इसीलिए चिंता न करें मैं ऐसे परिवार से आती हूं, जिसे प्याज की कोई खास परवाह नहीं है

बता दें कि अक्टूबर में खुदरा महंगाई दर 4.62 फीसदी थी, जो नवंबर में बढ़कर 5.54 फीसदी हो गई। जबकि सितंबर महीने में खुदरा महंगाई दर 3.99 फीसदी थी। लेकिन अब मोदी सरकार लगातार महंगाई के मोर्चे पर फेल हो रही है। विपक्षी दल बीजेपी और मोदी सरकार पर आरोप लगाते रहे हैं कि सरकार का महंगाई, अर्थव्यवस्था, नौकरी पर ध्यान नहीं है इसीलिए वो राम मंदिर, कैब, एनआरसी जैसे मुद्दों में उलझाए हुए है।

निर्मला वित्तमंत्री हैं या विचित्र मंत्री ? प्याज नहीं खाती इसलिए मंहगी प्याज होने पर कोई फर्क नहीं पड़ता

गौरतलब है कि पूरे देश में प्याज रिकॉर्ड महंगे दाम पर बिक रहा है। प्याज 150 रुपये किलो तक बिका है, इसके साथ ही टमाटर, आलू और अन्य सब्जियों की कीमतों में भी जबरदस्त उछाल आया है। पेट्रोल और डीजल के दामों में भी तेजी से इजाफा हुआ है। यही कारण है कि देश में महंगाई दर लगातार बढ़ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here