खट्टर सरकार के जेलमंत्री के.एल. पंवर ने बलात्कार के अपराधी गुरमीत राम रहीम के पैरोल पर जेल से बाहर आने के निवेदन के पक्ष में बयान दिया है. उनका कहना है कि जेल में एक साल सजा काटने के बाद अपराधी पैरोल पर जा सकता है.

जेलमंत्री के इस बयान से माना जा रहा है कि हरियाणा सरकार राम रहीम को पैरोल पर जाने की अनुमति दे देगी.

अगर ऐसा होता है तो ये पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के सुनाए गए फैसले की अनदेखी होगी. एक महीने पहले कोर्ट ने गुरमीत के पैरोल आवेदन को ख़ारिज कर दिया था.

इसी पर ट्वीट करते हुए शमा मोहमद ने लिखा, “भाजपा के नेता कठुआ बलात्कार के दोषी के समर्थन में चलते हैं. भाजपा ने बलात्कार के आरोपी एम जे अकबर और कुलदीप सिंह सेंगर को निलंबित करने से इंकार कर दिया था. और अब भाजपा बलात्कार के दोषी के पैरोल का समर्थन कर रही है. #GurmeetRamRahim . भाजपा हमेशा बलात्कारियों से हमदर्दी क्यों दिखाती है ?

भाजपा पर सवाल उठ रहे हैं कि आखिर वो बलात्कार करने वालों के खिलाफ एक्शन क्यों नहीं लेती. फिर चाहे वो कुलदीप सेंगर हो या फिर एम जे अकबर. इस बार पार्टी से सवाल किए जा रहे हैं कि बलात्कार और हत्या करने के दोषी पाए गए गुरमीत के पक्ष में पार्टी के मंत्री बयान क्यों दे रहे हैं? और वो भी तब जब कोर्ट ने उसके जेल से बाहर जाने की सुरत में दंगे होने की आशंका जताई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here