• 3.5K
    Shares

कश्मीर में जारी संकट को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर ज़ोरदार हमला बोला है। कांग्रेस ने कहा कि कश्मीर में अभी तक इंटरनेट, बिजली और दवाई का अभाव है और सरकार दुनिया में ‘सब ठीक है’ का दावा कर रही है।

ये बातें कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने शुक्रवार को दिल्ली कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं। उन्होंने कहा, “कश्मीर पिछले 103 दिनों से लॉकडाउन की स्थिति में है। इसके बावजूद पीएम मोदी पूरी दुनिया में “सब चंगा सी’, ‘ऑल इज वेल’ कह रहे हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कश्मीर के हालात के बारे में दावा करते हुए कहा, “कश्मीर में न मंदिरों में घंटे बज रहे हैं, न आरती की मधुर वाणी सुनाई दे रही है, न मस्जिदों से अजान की आवाज। न मोबाइल फोन बज रहे हैं, न बिजली है, न ही दवाइयां। यह कैसा समाधान है, जिसमें लोगों को बात करने की इजाजत नहीं है, बिजली नहीं है, दवाई नहीं है।

उन्होंने सरकार को आड़े हातें लेते हुए कहा कि इतनी सब परेशानियों के बाद भी सरकार दावा करती है कि समाधान हो गया है, आखिर कैसे? कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, “आपने (मोदी सरकार) डेटा सर्विस बंद कर रखी है, तो एसएमएस, ब्रॉडबैंड एवं प्रीपेड सेवाएं क्यों बंद हैं? क्या कारण हैं कि आपने स्थापित राजनैतिक दलों के नेताओं को अभी तक बंद कर रखा है? जब भारी मात्रा में सुरक्षा बल तैनात हैं, तो मुख्यधारा के इन नेताओं को किस आधार पर अंदर रखा गया है?”

पवन खेड़ा ने कहा, “कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है, कश्मीर को भारत का अभिन्न हिस्सा बनाने में नेहरू जी, पटेल साहब सहित कांग्रेस पार्टी के नेताओं के साथ-साथ इन नेताओं का भी योगदान रहा है, जिन्हें आज आपने हिरासत में रखा है। हम यह जानना चाहते हैं कि सोमवार से शुरू होने वाले संसद के सत्र में क्या डाक्टर फारूख अब्दुला अपनी आवाज उठा पाएंगे ? क्या उन्हें आने दिया जाएगा?”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here